Advertisement
छत्तीसगढ़प्रदेश
Trending

महिला ने दहेज और ससुरालियों की शारीरिक और मानसिक प्रताडऩा से तंग आकर किया FIR दर्ज

Advertisement
Advertisement

भिलाई। चार माह पूर्व पॉवर हाउस निवासी महिला ने दहेज और ससुरालियों की शारीरिक और मानसिक प्रताडऩा से तंग आकर पति, सास, ससुर, ननद और ननदोई के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध करवाया है। शिकायत के बाद संबंधित परिवार के साथ काउंसलिंग पर भी जब बात नहीं बनी तो महिला पुलिस ने नवविवाहिता के नागपुर निवासी ससुरालियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार पीडि़त 30 वर्षीय दुर्गा मेश्राम 5 अक्टूबर से किशन चौक शारदा पारा में माता-पिता के साथ रह रही है। उसका विवाह इसी वर्ष 13 जुलाई को मेघराज मेश्राम निवासी रामकृष्ण नगर उमरेड रोड दिघोरी नागपुर के साथ हुआ। शादी में दुर्गा के माता-पिता ने अपनी हैसियत अनुसार जेवर, सभी आवश्यक घरेलू सामान उपहार स्वरूप दिये थे। शादी के बाद बिदा होकर अपने ससुराल पहुंची दुर्गा 5 दिन ठीक से रही। उसके बाद पति मेघराज, सास ताराबाई और ससुर तेजराम दहेज कम दिये हैं, कहकर छोटी-छोटी बातों पर गाली गलौज करने लगे।

मेघराज रोज शराब पीकर मारपीट कर पत्नी के चरित्र पर संदेह जाने लगा। बड़ी ननद मनीषा सुरूंदकर और ननदोई प्रांजन जो कि नागपुर में ही रहते हैं, बीच-बीच में आकर घरेलू बात पर गाली गलौज कर झगड़ते रहे। छोटी ननद सुषमा उके भी ससुराल से आकर न सिर्फ ताना मारती, बल्कि मारपीट भी करती थी। दो अक्टूबर को कम दहेज लाने के नाम से काफी प्रताडि़त करने पर दुर्गा के मौसी-मौसा, जो नागपुर में रहते हैं,

उन्हें जैसे तैसे दुर्गा ने सूचित किया। जब मौसा मौसी दुर्गा के सुसराल आये तो उनसे भी मेघराज ने विवाद कर घर से भगाने लगे तो दुर्गा को मौसा मौसी लेकर नागपुर वाठोडा थाना पहुंच रिपोर्ट करवायी। मौसी के घर से दुर्गा अगले दिन भाई के साथ भिलाई आ गई। महिला थाना दुर्ग में शिकायती आवेदन देने पर काउंसलिंग की गई मगर समझौता नहीं हुआ। अंतत: दुर्गा ने पति मेघराज मेश्राम, सास ताराबाई, ससुर तेजराम मेश्राम, बड़ी ननद मनीषा सुरूंदकर, ननदोई प्रांजन सुरूंदकर एवं छोटी ननद सुषमा उके के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवायी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button