Advertisement
अंतर्राष्ट्रीय

चूहे के काटने से महिला हुई कोरोना पॉजिटिव

Advertisement
Advertisement

कोरोना वायरस कहां से कैसे आया? वैज्ञानिक जितना इन सवालों के जवाब ढूढ़ रहे हैं उतना ही यह रहस्यमी होता जा रहा है. अब ताइवान में एक महिला के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद बड़ा खुलासा हुआ है. स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि एक उच्च सुरक्षा वाले लैब में काम करने वाली महिला संक्रमित हुई है. इस महिला को काम करने के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित चूहे ने काटा था. 20 साल की महिला को कोरोना टेस्ट गुरुवार को पॉजिटिव पाया गया था. यह केस आने के बाद पिछले एक महीने में ताइवान में कोरोना वायरस के स्थानीय ट्रांसमिशन का पहला मामला भी बन गया है

हालांकि स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि वह अभी इस बात को कंफर्म नहीं कर सकते हैं कि महिला को लैब में संक्रमित चूहे के काटने से ही कोविड हुआ है. खास बात यह है कि महिला की कोई ट्रैवल हिस्ट्री भी नहीं हैं. ताइवान के रोग नियंत्रण संस्थान के प्रमुख चेन शिह-चुंग ने गुरुवार देर रात मामले का खुलासा करते हुए कहा कि महिला के शीर्ष शोध संस्थान एकेडेमिया सिनिका के भीतर स्थित बायो-लैब की कर्मचारी है. चेन शिह-चुंग ने कहा कि इस महिला को नवंबर के महीने में संक्रमित चूहे ने दो बार काटा था.

इससे इस महिला के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की संभावना जताई गई थी. हालांकि अभी स्वास्थ्य अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि करने से इनकार कर दिया है और आगे की जांच की बात कही जा रही है. अधिकारी ने आगे कहा, महिला को कोरोना के पहले लक्षण 23 नवंबर को विकसित हुए जब उसने हल्की खांसी की सूचना दी. 6 दिसंबर को खांसी तेज हो गई और उसे पीसीआर टेस्ट करने के लिए भेजा गया. टेस्ट के रिजल्ट 9 दिसंबर को आए और पता चला कि यह महिला कोविड के डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित थी

ताइवान की महिला के एक चूहे के काटने से कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर अमेरिका की लैब लीक थ्योरी की फिर से चर्चा होने लगी है. एनडीटीवी की खबर के मुताबिक ताइवान में महिला के चूहे के काटने से संक्रमित होने की पुष्टि हो जाती है तो इससे कोरोना वायरस के चीन के वुहान लैब से लीक होने की थ्योरी को बल मिल सकता है. अगर ऐसा होता है तो एक बार फिर से चीन और अमेरिका के बीच तनाव की स्थिति और टकराव बढ़ा सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button