छत्तीसगढ़प्रदेश
Trending

मुलभुत सुविधा को लेकर 90 गांव के ग्रामीणों ने निकाला रैली

विरेन्द्र पटेल: कांकेर से 40 किमी कि दुरी पर स्थित उपतहसील आमाबेड़ा क्षेत्र के 90 गांव के लोग अपनी मूलभूत सुविधा की मांग को लेकर आज अमाबेड़ा में 3000 लोगों ने सोड़े यादव भवन से निकलकर नायाब तहसीलदार वीरेंद्र नेताम को, महामहिम राज्यपाल महोदया के नाम ज्ञापन सौंपा गया जिसमें 21 सूत्रीय मांग को रखा गया है
आमाबेड़ा क्षेत्र में कुल 90 गांव होते है,

इन 90 गाँव मे शासन का योजनाओं को पाने के लिए मुख्यमंत्री महोदय जी और राज्यपाल महोदया
को हमने रैली के माध्यम से कई वर्षों से कई बार क्षेत्रीय मांगो को रखते हुए ज्ञापन दे चुके है।
किन्तु शासन प्रशासन हमारी मांगों को वंचित कर रही है. इसलिए आज दिनांक 13/10/2021 दिन
बुधवार को रैली के माध्यम से एक बार पुनः महामहिम राज्यपाल महोदया एवं मुख्यमंत्री महोदय
हमारी मांगे निम्नानुसार है-

  1. आमाबेड़ा को ब्लाक का दर्जा तथा अंतागढ़ को जिला बनाया जाय।
    स्वीकृति हुई मुख्य मार्ग को तत्काल गुणवतापूर्ण बनाई जाय।
  2. आमाबेड़ा से अंतागढ़, आमाबेड़ा से कांकेर तथा आमाबेड़ा से अर्रा होते हुए नारायणपुर मार्ग को जल्द ही बनाया जाय
  3. प्रधान मंत्री ग्रामीण सड़क योजना एवं लोक निर्माण विभाग के द्वारा निर्माण किये जाने वाले सभी सड़को को बनाया जाय
  4. आमाबेड़ा क्षेत्र के 90 गांव में एक शासकीय महाविद्यालय खोली जाय।
  5. सरकारी नौकरी के भर्ती में स्थाननीय लोगों को प्राथमिकता दिया जाय।
  6. धान खरीदी केन्द्र उसेली. नागरबेडा और अर्रा में खोला जाय।
  7. बस्तर सम्भाग में पेशा कानून को लागू किया जाय।
    7.आमाबेड़ा क्षेत्र में रेड्डी टूइटफुड समूह का तत्काल राज्य शासन आमाबेड़ा क्षेत्र में समूह तैयार किया जाय
    10.धान का समर्थन मुल्य 2500 से 3000 किया जाय।
    आमाबेडा उप तहसील क्षेत्र को सुखाग्रस्त घोषित किया जाय।
    जनपद पंचायत अतागढ़ में सबइजिनियर पदों को तत्काल नियुक्ति किया जाय।
    ना कि खोले जाये।
    12आमाबेड़ा क्षेत्रअर्रा एवं बण्डापाल मे बालक-बालिका आश्रम खोला जाय।
    13.पांचवी अनुसूची क्षेत्र ग्राम सभा प्रस्ताव के बिना खदान कारखाना एवं पुलिस कैम्प नहीं खोला जाया
    14.महंगाई डिजल, पेट्रोल की कीमत को काबू करें राज्य एवं केन्द्र सरकार
  8. मनोपज से सम्बधित वनोपजों का समर्थन मूल्य बढ़ाई जाय।
  9. आमाबेड़ा प्राथमिक उप स्वास्थ्य केन्द्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाई जाय।
  10. प्राथमिक स्वास्था केन्द्र आमाबेड़ा में एम.बीबीएस एवं नर्स की स्पेशल भर्ती की जाय।
  11. किसान बिल रद करे केन्द्र सरकार।
  12. आमाबेड़ा में ओपन परीक्षा केन्द्र खोला जाय।
  13. आमाबेड़ा क्षेत्र में बेरोजगार लोगों को रोजगार दिया जाय।
    21 सूत्रीय मांगों को लेकर आमाबेडा क्षेत्र के लोगों ने नायब तहसीलदार वीरेंद्र नेताम को ज्ञापन सौंपा और 90 गांव के ग्रामीणों ने कहा है कि हमारी मांग 2 महीना के अंदर पूरा नहीं होता है तो उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी है हम कांकेर जिला मुख्यालय को 90 गांव के लोगों के द्वारा घेराव किया जाएगा जिसके जिम्मेदारी शासन प्रशासन खुद होगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button