विज्ञापन
उत्तर प्रदेश
Trending

Uttarpradesh: आकाशीय बिजली गिरने से किसान की मौत

उत्तर प्रदेश (UttarPradesh) के बांदा जिले में तेज आंधी और बारिश की वजह से बदले मौसम के मिज़ाज से भले ही गर्मी से कुछ राहत मिली हो, लेकिन इसी बीच आकाशीय बिजली गिरने से उसकी चपेट में आकर एक किसान की जान चली गयी. जहां पर किसान खेत से काम करके घर वापस लौट रहा था. तभी रास्ते में भारी बारिश होने लगी. जिसके चलते वह आकाशीय बिजली की चपेट में आ गया. इस दौरान किसान की मौके पर दर्दनाक मौत हो गयी. वहीं, घटना की सूचना मिलते ही मौक़े पर पहुंचे प्रशासनिक दल ने किसान को मुआवज़ा देने की बात कही है. तहसीलदार पुष्पक के मुताबिक़, मृतक किसान नंदकिशोर (45) पर ही पूरे परिवार के भरण पोषण की ज़िम्मेदारी थी. इस दौरान पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही जिला प्रशासन की ओर से परिवार को दैवीय आपदा के तहत राहत राशि प्रदान कराने की बात अधिकारियों ने कही है

दरअसल, ये घटना शहर कोतवाली क्षेत्र के मवई बुजुर्ग गांव की है. जहां के 45 साल के मृतक किसान नंदकिशोर पर सोमवार दोपहर बाद खेत से लौटते समय रास्ते में यह आसमान से आफ़त गिर पड़ी. लेकिन जब तक वह कुछ समझ पाते उससे पहले ही बिजली से उनका शरीर बुरी तरह झुलस गया. ऐसे में नज़दीक के खेतों में काम कर रहे किसानों ने उन्हें जैसे तैसे सम्भाला और परिवार को घटना की जानकारी दी. इस घटना के बाद से परिवार में कोहराम मच गया है. जहां परिजन के घर में मातम पसर गया है, वहीं, प्रशासन ने पीड़ित परिवार को दैवीय आपदा के तहत 4 लाख रुपए देने के निर्देश दिए हैं

वहीं, बांदा तहसीलदार पुष्पक ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि नंदकिशोर नाम के एक शख्स जो कि खेत से काम करके लौट रहे थे. इस दौरान आकाशीय बिजली की चपेट में आने से उनकी मौत हो गयी है. उन्होंने कहा कि इसके लिए उन्हें दैवीय आपदा के तहत सहायता राशि दी जाएगी. फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है, और आगे की कार्यवाही की जा रही है

बता दें कि उत्तर प्रदेश शासन ने किसान की आकाशीय बिजली से मौत होने पर तत्काल प्रभाव से 4 लाख रुपए का उसके परिजनों को देते हैं. यह सच है कि इस व्यक्ति की आकाशीय बिजली गिरने से हुई मौत में वह इकलौता परिवार का कमाता व्यक्ति था. जोकि पूरे परिवार का भरण-पोषण करता था. ऐसे में आज उसके साथ उसके परिवार के साथ बहुत बड़ा संकट आ गया है. इस पर जो शासन ने 400000 रुपए की सहायता राशि मुकर्रर कर रखी है. जिससे वह कम से कम इनके परिवार को कुछ समय तक के लिए सहायता प्रदान करेगी

विज्ञापन
Show More

Support Us!

‘प्रबुद्ध जनता’ जनवादी पत्रकारिता करता है। यह संविधान, लोकतंत्र और सामाजिक न्याय पर चलने वाला एक डिजिटल मीडिया है। अगर आप भी चाहते हैं कि ‘प्रबुद्ध जनता समाचार’ हमेशा हाशिए पर खड़े लोगों की आवाज़ बुलंद करता रहे और तुरंत की सभी लेटेस्ट खबरे आप तक पहुंचाता रहे तो इसे हम तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करेंगें इसलिए हमारी आपसे यह अपील है कि आप स्वेच्छा से प्रबुद्ध जनता समाचार का सहयोग करें। जिससे हमारी समाचार कवरेज़ खासकर फील्ड रिपोर्टिंग को मदद मिल सके।

Related Articles

Back to top button