उत्तर प्रदेश
Trending

Unnao Dalit Murder Case: दलित युवती हत्याकांड में पूर्व ब्लाक प्रमुख और प्रधान गिरफ्तार

यूपी। उन्नाव दलित युवती हत्याकांड (Unnao Dalit Murder Case) में पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है. दलित युवती (Dalit Girl) का अपहरण कर उसकी हत्या करने के बाद उसके शव को आश्रम के पीछे दफना दिया गया था. इस मामले में पुलिस ने परिजनों के आरोप पर पूर्व राज्य मंत्री के बेटे को गिरफ्तार व उसके साथी को गिरफ्तार किया था. पुलिस की पूछताछ में जुर्म कबूल करते हुए अभियुक्तों की निशानदेही पर पुलिस ने दफन शव को निकालकर पोस्टमार्टम करवाया था. पोस्टमार्टम से संतुष्ट न होने पर परिवार वालों ने दोबारा पोस्टमार्टम करवाया था. वहीं अन्य कई लोगों पर भी हत्या में शामिल होने के आरोप लगाए थे. फिलहाल पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पूर्व ब्लाक प्रमुख व प्रधान को गिरफ्तार कर लिया है

सफीपुर के पूर्व ब्लाक प्रमुख अशोक सिंह व बरवट प्रधान संजय सिंह को उन्नाव की एसओजी टीम ने पकड़ा पूछताछ के बाद उन्नाव कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया कोतवाली पुलिस ने मेडिकल कराकर दोनों को जेल भेज दिया है. गिरफ्तार किए गए अशोक सिंह दलित हत्याकांड के मुख्य आरोपी रजोल सिंह के भाई हैं . गिरफ्तार किए गए इन दो लोगो पर भी मृत दलित युवती की माँ ने बेटी की हत्या में शामिल होने का साजिश से रचने का आरोप लगाया था.

और उन्नाव पुलिस अधीक्षक को लिखित है प्रार्थना पत्र देकर गिरफ्तारी की मांग की थी. बताते चलें कि पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही थी इसी दौरान विवेचना को सीओ सिटी से हटाकर सीओ बांगरमऊ को सौंप दी गई. क्योंकि सीओ सिटी पर भी इस मामले में लापरवाही के आरोप लगे थे पीड़िता की मां ने आरोप लगाया था कि अगर सीओ सिटी समय से जांच पड़ताल करते तो शायद मेरी बेटी बच सकती थी. आरोपों के बाद इस मामले की विवेचना सीओ सिटी कृपाशंकर से ट्रांसफर करके बांगरमऊ सीओ विक्रमजीत को दी गई है. विक्रमजीत इस पूरे मामले की विवेचना कर रहे हैं.

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button