राष्ट्रीय
Trending

केंद्रीय मंत्री नकवी ने Haj Yatra के पहले जत्थे को दिखाई हरी झंडी

Haj Yatra: केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शनिवार को कहा कि भारत के हज यात्रियों को पूरी दुनिया की शांति और समृद्धि के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। नकवी ने यहां छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से हज यात्रियों के पहले जत्थे को हरी झंडी दिखाई। 207 पुरुषों और 203 महिलाओं समेत 410 तीर्थयात्रियों का पहला जत्था मुंबई एयरपोर्ट से यात्रा कर रहा है। मुंबई से 19 उड़ानों में करीब 8,000 नमाजी यात्रा करेंगे।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि हज 2022 के लिए उड़ानें 4 जून से शुरू हुईं। हज यात्री दस आरोहण बिंदुओं (एम्बार्केशन पॉइंट्स) अहमदाबाद, बेंगलुरु, कोचीन, दिल्ली, गुवाहाटी, हैदराबाद, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और श्रीनगर से यात्रा करेंगे। नकवी ने कहा कि भारत के हज यात्रियों को पूरी दुनिया की शांति और समृद्धि के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। उन्हें प्रार्थना करनी चाहिए कि मानवता हर तरह के संकट से सुरक्षित रहे। उन्होंने कहा कि हज यात्रियों के लिए बेहतर सुविधा के लिए 100 फीसदी डिजिटल/ऑनलाइन प्रक्रिया के साथ हजयात्रा सफलतापूर्वक की जा रही है। उन्होंने कहा कि तीर्थयात्रियों को डिजिटल हेल्थ कार्ड, ई-मसीहा स्वास्थ्य सुविधा और ई-सामान प्री-टैगिंग, मक्का मदीना में आवास और परिवहन के बारे में जानकारी सहित कई ऑनलाइन सुविधाएं प्रदान की गई हैं।

इस साल कम से कम 79,237 भारतीय मुसलमान हज यात्रा पर जाएंगे और उनमें से करीब 50 फीसदी महिलाएं हैं। इनमें कम से कम 56,601 भारतीय, हज समिति और 22,636, हज समूह आयोजकों (एचजीओ) के जरिए जा रहे हैं। हज समूहों की पूरी प्रक्रिया को पारदर्शी और ऑनलाइन कर दिया गयाहै। 1,800 से अधिक महिलाएं मेहरम (पुरुष साथी) के बिना हज यात्रा कर रही हैं और बिना लॉटरी सिस्टम के हज पर जा रही हैं। केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि गुजरात के हजयात्री अहमदाबाद आरोहण बिंदु से यात्रा करते हैं और कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के लोग बेंगलुरु से जाते हैं।

उन्होंने कहा कि केरल, लक्षद्वीप, पुडुड्चेरी, तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार के हजयात्री कोचीन से यात्रा करेंगे जबकि दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, उत्तराखंड, राजस्थान, उत्तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों के लोग दिल्ली से यात्रा करेंगे। मंत्री ने बताया कि असम, मेघालय, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और नागालैंड के हजयात्री गुवाहाटी से यात्रा करेंगे। जबकि पश्चिम बंगाल, ओडिशा, त्रिपुरा, झारखंड और बिहार के लोग कोलकाता आरोहण बिंदु से यात्रा करेंगे।

नकवी ने बताया कि महाराष्ट्र, गोवा, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, दमन और दीव, दादर और नागर हवेली के लोग मुंबई से यात्रा करेंगे। जबकि जम्मू-कश्मीर, लेह-लद्दाख-कारगिल के हजयात्री श्रीनगर से यात्रा करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button