बिहार
Trending

जबरन एक विवाहिता को दूसरे धर्म कबूल करने के लिए मानसिक व शारीरिक प्रताड़ना देने का आरोपी को मिले कड़ी से कड़ी सजा: बजरंग दल

छातापुर-सुपौल-सोनू कुमार भगत: अंतरराष्ट्रीय साजिश लव जिहाद को भी पीछे छोड़ते हुए 38 वर्षीय मोहम्मद कलीम ने 28 वर्षीय विवाहित हिन्दू महिला का अपहरण कर बंद कमरे में लगातार दो महीने तक यौन शोषण करता रहा। बर्बरता पूर्वक प्रतिबंध मांस खिलाता रहा व इस्लाम धर्म कबूल करने के लिए अनेकों मानसिक व शारीरिक प्रताड़ना देने का कार्य करता रहा।
उक्त मामलें से पड़ताड़ित विवाहित महिला व उनके पति ने भीमपुर थाना में पहुंचकर शनिवार को आवेदन देकर मोहम्मद सलीम व अररिया जिले के फारबिसगंज निवासी दो अन्य लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कर कार्रवाई करने की गुहार लगाई है। उक्त मामलें में छातापुर

बजरंग दल के प्रखंड संयोजक आलोक मंडल ने कहा कि हिंदू महिला को यदि उचित न्याय नहीं मिला तो बजरंग दल विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ता ऐसे जिहादी और तालिबानी नस्ल के विरुद्ध एक बड़ा जन आंदोलन खड़ा करेगा।उन्होंने कहा कि यह घटना काफी दुःखद है। ऐसे जिहादी नस्ल के मानसिकता वाले लोगों को कड़ी से कड़ी सजा मिलने की बात उन्होंने कही। उन्होंने कहा कि घटना की जांच के बाद दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग की। उधर,
विश्व हिंदू परिषद के जिला गोरक्षा प्रमुख बमबम सोनी ने कहा कि हिंदू महिला का अपहरण होना एक संयोग नहीं बल्कि यह एक अंतरराष्ट्रीय साजिश का हिस्सा है। अन्य इस्लामिक देशों द्वारा भारत के हिंदू महिलाओं का अपहरण व लव जिहाद एक बड़ी साजिश है।

विश्व हिंदू परिषद के प्रखंड धर्म प्रसार प्रमुख धर्मराज ने कहा कि हिंदुओं को अपने संस्कृति व अपने पूर्वजों के संस्कार का अनुसरण करते हुए अपने घर परिवार के बच्चों को संस्कार देना चाहिए। यदि हम अपने दैनिक जीवन में इस प्रकार की गतिविधि को एक हिस्सा मानकर चलेंगे तो हम इस्लामिक साजिद का मुंहतोड़ जवाब देते हुए अपने घर परिवार को सुरक्षित रखने में सफल हो पाएंगे। मौके पर बजरंग दल मंत्री फूल सोनू भीमपुर अध्यक्ष दीपक कुमार मंडल,
सूरज कुमार, सुधीर मंडल, संजीव मेहता, मंटू मनीष, राजा कुमार, धर्मेंद्र कुमार, अविनाश कुमार, जयनारायण कुमार, सुरेंद्र कुमार, छोटू मंडल आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button