छत्तीसगढ़

कर्मकार कल्याण मंडल के अध्यक्ष सुशील सन्नी अग्रवाल द्वारा 02 हितग्राहियों को एक-एक लाख रूपये का चेक वितरित, श्रमिकों की समस्याओं से हुए अवगत

(संवाददाता प्रदीप ठाकुर)

कांकेर – छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के अध्यक्ष सुशील सन्नी अग्रवाल मंगलवार को कांकेर जिले के प्रवास पर थे। नगरपालिका कांकेर के पार्षदों की बैठक ली गई तथा श्रमिकों के पंजीयन के संबंध में चर्चा किया गया।  
तत्पश्चात मंडी प्रांगण में मध्यान्ह भोजन रसोईया संघ के श्रमिकों की समस्याओं से अवगत हुए। इस अवसर पर उनके द्वारा छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के 03 हितग्राहियों तथा मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक मृत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजना में 02 हितग्राहियों को 01-01 लाख रूपये एवं भगिनी प्रसूति सहायता योजना में 01 महिला हितग्राही को 05 हजार रूपये का चेक वितरित किया गया।
अध्यक्ष सुशील सन्नी अग्रवाल ने श्रम पदाधिकारी कार्यालय में अधिकारी-कर्मचारियों की बैठक लेकर श्रम विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन में प्रगति की जानकारी ली। श्रम पदाधिकारी पी.के. बिचपुरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में 35 हजार 925 श्रमिकों के साथ 64 हजार 440 श्रमिकों का पंजीयन किया गया है। अध्यक्ष द्वारा मंडल में संचालित योजनाओं की समीक्षा की गई एवं श्रमिकों से प्राप्त आवेदनों को त्वरित निराकरण करने के लिए अधिकारी-कर्मचारियों को निर्देशित किया गया। उन्होंने मंडल में श्रमिकों के हित में प्रसूति सहायता योजना एवं ई-रिक्शा सहायता योजना के संबंध में लिए गये निर्णयों से अवगत कराते हुए कहा कि महिला श्रमिकों को प्रसूति सहायता योजना के अंतर्गत एकमुश्त 10 हजार रूपये का लाभ दिया जाएगा तथा ई-रिक्शा सहायता योजना को मंडल द्वारा भविष्य में फिर से प्रारंभ किया जाएगा, इससे श्रमिकों एवं उनके परिवार के सदस्यों को वैकल्पिक रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। उनके द्वारा उपकर वसूली की समीक्षा की गई एवं श्रम मित्रों की नियुक्ति के संबंध में जानकारी लिया गया। उन्होंने बताया कि पंजीयन का सरलीकरण करते हुए उसे निःशुल्क करने का निर्णय लिया गया है, जिससे श्रमिकों को पंजीयन में आ रही कठिनाईयों को समाप्त किया जा सके। उनके द्वारा कार्यालय में आने वाले श्रमिकों एवं जनप्रतिनिधियों से अच्छा व्यवहार करने के निर्देश भी दिये गये तथा कर्मचारियों से कार्यालयीन कार्यों में आ रही समस्याओं की जानकारी ली गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button