Advertisement
छत्तीसगढ़प्रदेश
Trending

प्रशासन के समझाईस देने और मना करने के बाद भी, स्टांप वेंडर,और अर्जी लेखक नहीं बैठ रहे है तहसील परिसर के अंदर

सुभम कुंडू- प्रशासन के समझाईस देने और मना करने के बाद भी, स्टांपवेंडर,और अर्जी लेखक नहीं बैठ रहे है तहसील परिसर के अंदर.जिसका खामियाजा आखिर आम जनता को भुगतना पड़ रहा है,दरअसल मामला कांकेर जिले के पखांजुर का है

जहा अर्जी लेखक और स्टांप वेंडर दोनो की साटघाट के चलते क्षेत्र के भोले भाले आम लोगों को आवेदन लिखने के नाम पर और स्टांप वेंडर द्वारा स्टांप बेचते हुए अधिक मूल्य वसूलते है ऐसे में आम लोगों को काफी परेशानी होती है मगर मजबूरी के चलते उन्हें जो कीमत मांगा जाता है उन्हे आखिर देना है पड़ता है अब तो आलम ये है की जो लोग शिक्षित होते है वे तो ठगी का शिकार होने से बच जाते है

मगर जो अनपढ़ होते है उनसे कोई भी मामले की आवेदन लिखने के नाम से अतिरिक्त पैसा लिया जाता है सेम कंडीशन स्टांप वेंडर का भी है जहा लोगों से स्टांप की शुल्क से दुगने दाम में बेचे जाते है आए दिन लोग अपने जरूरी कार्य के लिए न्यालय ,तहसील,बैंक में अपना काम करवाने आते है, जहा स्टांप वेंडर और अर्जी लेखक तहसील परिसर के बाहर कुर्सी टेबल लगाकर बैट ते है और लोगों का काम करने के पश्चात मु मांगी कीमत मांगते है,

अब देखना ये है की प्रशासन इन हालातो को कब तक सुधारती है और अवैध रकम लेने वालो पर क्या कुछ कार्यवाही करती है ।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button