महाराष्ट्र
Trending

कई इलाकों में पथराव को देखते हुए पुणे में धारा 144 लागू

Advertisement

त्रिपुरा में हाल में हुई सांप्रदायिक हिंसा के खिलाफ महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में हिंसा के बाद पुणे में धारा 144 लागू कर दिया गया है। अक्टूबर के अंत में त्रिपुरा में हुई हिंसा के खिलाफ महाराष्ट्र में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था। त्रिपुरा में कथित सांप्रदायिक हिंसा के विरोध में कुछ मुस्लिम संगठनों द्वारा निकाली गई रैलियों के दौरान शुक्रवार को महाराष्ट्र के अमरावती, नांदेड़, मालेगांव (नासिक), वाशिम और यवतमाल में विभिन्न स्थानों पर पथराव हुआ था।

Advertisement

एक अधिकारी ने कहा कि कलेक्टर राजेश देशमुख की ओर से जारी आदेश में लोगों को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कोई ऐसा मैसेज पोस्ट नहीं करने की हिदायत दी गई है जो समूहों के बीच सांप्रदायिक दरार पैदा कर सकता है। जिले में 14 नवंबर की मध्य रात्रि से 20 नवंबर तक धारा 144 लागू रहेगा। इस दौरान एक समय पर एक जगह पांच या उससे अधिक लोगों के इकट्ठा होने या फिर मीटिंग करने, होर्डिंग और पोस्टर लगाने प्रतिबंधित रहेगा जो सांप्रदायिक तनाव पैद कर सकता है। 

सोशल मीडिया पर भ्रामक पोस्ट नहीं डालने की हिदायत

आदेश के अनुसार, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे इंस्टाग्राम, ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्सएप के माध्यम से संदेश आदि फैलाना, जो समाज में सांप्रदायिक दरार पैदा कर सकता है, प्रतिबंधित है। अधिकारी ने कहा कि अधिकारी ने कहा कि नियमों का उल्लंघन करने वालों पर आईपीसी की धारा 188 के तहत केस दर्ज किया जाएगा।

पुलिस ने 35 लोगों को किया गिरफ्तार

महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले में कुछ दिन पहले तोड़फोड-पथराव की घटना के बाद पुलिस ने अब तक 35 लोगों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि फिलहाल नांदेड़ में स्थिति शांतिपूर्ण है। वहां शुक्रवार को पुलिस वाहन पर पथराव की घटना में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि हिंसा वजीराबाद इलाके और देगलुर नाका में हुई। पुलिस अधिकारी ने एक लाख रुपए की सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचने का अनुमान लगाया है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button