उत्तर प्रदेश
Trending

Prayagraj Violence: जावेद पंप के घर पर चला बुलडोजर, धड़ाधड़ तोड़ी दीवार

Prayagraj Violence: नई दिल्ली: पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद देश के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए. उत्तर प्रदेश में कई जगह प्रदर्शन के दौरान हिंसा हुई. इसके बाद योगी सरकार एक्शन मूड में है. पुलिस विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने वालों को चिन्हित करके कार्रवाई कर रही है.

रविवार को प्रयागराज में हिंसा के मास्टरमाइंड बताए जा रहे जावेद मोहम्मद के घर पर बुलडोजर चला. भारी पुलिस बल की तैनाती के बीच जावेद का घर बुलडोजर से गिरा दिया गया. जावेद छात्र कार्यकर्ता आफरीन फातिमा के पिता हैं. आफरीन जेएनयू में पढ़ाई करती हैं. योगी सरकार की बुलडोजर नीति के खिलाफ और फातिमा के समर्थन में आज जेएनयू में प्रदर्शन होगा

ये प्रदर्शन जेएनयू छात्र संघ की ओर से किया जाएगा. साबरमती ढाबा पर शाम 6:00 बजे प्रदर्शन होगा. आफरीन ने एंटी CAA प्रोटेस्ट में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था. आफरीन हिजाब बैन के दौरान भी काफी मुखर रही. जेएनयू छात्रा ने हिजाब बैन के दौरान साउथ इंडिया में कई शहरों का दौरा किया था और प्रोटेस्ट में हिस्सा लिया था. दिल्ली दंगों में साजिश का आरोप आसिफ इकबाल तनहा भी आफरीन के समर्थन में आ गया है.

आफरीन के समर्थन में शशि थरूर ने ट्वीट किया है. थरूर ने ट्वीट में लिखा, जेएनयू से आ रही इस खबर को लेकर हैरान हूं कि छात्रा के परिवार का घर गिरा दिया गया है. कानून की नियत प्रक्रिया के तहत कार्रवाई लोकतंत्र में मौलिक अधिकार है. घर गिराने की कार्रवाई किस कानून के तहत और किस प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है? क्या यूपी ने खुद को भारत के संविधान से छूट दे दी है?

आफरीन फातिमा ने कहा कि वह अपने पिता, मां और बहन की सुरक्षा के लिए बेहद चिंतित हैं. फातिमा ने कहा कि उसे अपने परिवार के सदस्यों के बारे में कोई जानकरी नहीं है कि वे कहां हैं. फातिमा ने दावा किया कि आधी रात को महिलाओं और छोटे बच्चों को जबरदस्ती घरों से निकाला जा रहा था

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button