Advertisement
प्रदेश

Pm Narendra Modi: आज गोवा दौरे पर प्रधानमंत्री, कई परियोजनाओं का करेंगे शुभारंभ

Advertisement
Advertisement

नई दिल्ली: अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की ताबड़तोड़ रैलियों का दौर जारी है। कल पीएम मोदी ने यूपी के शाहजहांपुर में गंगा एक्सप्रेसवे का शिलान्यास किया तो आज पीएम गोवा के लिबरेशन डे के मौके पर गोवा पहुंच रहे हैं जहां वो चुनाव से पहले करीब 600 करोड़ रुपये की सौगात देने वाले हैं।

पीएम मोदी दोपहर 3 बजे गोवा पहुंचेंगे जहां वो कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन तो करेंगे ही लेकिन उनका मुख्य कार्यक्रम गोवा मुक्ति दिवस समारोह के दौरान ऑपरेशन विजय में शामिल स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित करने का होगा।

यह कार्यक्रम डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम में होगा। भारतीय सेना ने 1961 में ऑपरेशन विजय पुर्तगाली शासन से गोवा को आजाद कराने के लिए चलाया था जिसके पूरा होने के बाद गोवा आजाद हुआ था आज उसी जीत की 60वीं वर्षगांठ मनाने के लिए पीएम गोवा पहुंच रहे हैं।

जानें, पीएम मोदी आज गोवा को कौन कौन सी सौगात देने वाले हैं?

  • फोर्ट अगुआड़ा जेल म्यूजियम- इसे रेनोवेट किया गया है, पीएम इसका उद्घाटन करेंगे
  • गोवा मेडिकल कॉलेज में तैयार किए गए सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का उद्घाटन करेंगे
  • न्यू साउथ गोवा में बने जिला अस्पताल का भी उद्घाटन करेंगे  
  • मोपा हवाई अड्डे पर विमानन कौशल विकास केंद्र को गोवा की जनता को सौंपेंगे
  • इनके अलावा मडगांव के डाबोलिम-नावेलिम में बने गैस-इन्सुलेटेड सबस्टेशन को राज्य की जनता को सौंपेंगे।

60 साल पहले गोवा में क्या हुआ था?

19 दिसंबर, 1961 को भारतीय सेना ने गोवा को पुर्तगाल की गुलामी से आजाद कराया था आज इसी ऑपरेशन विजय की 60वीं वर्षगांठ के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोवा पहुंच रहे हैं। 15 अगस्त, 1947 को आजादी के बाद भी गोवा पर पुर्तगाल का शासन था, 18 दिसंबर, 1961 को भारतीय सेना ने गोवा में ‘ऑपरेशन विजय’ शुरू किया। इस ‘ऑपरेशन विजय’ में वायुसेना, जलसेना और थलसेना तीनों ने हिस्सा लिया। गोवा को आजाद कराने का सेना का ‘ऑपरेशन विजय’ 36 घंटे तक चला जिसके बाद 19 दिसंबर, 1961 को गोवा को पुर्तगाली कब्जे से आजाद करा लिया गया। पुर्तगाल से आजादी के बाद गोवा का भारत में विलय कराया गया। पुर्तगाली भारत सबसे पहले 1510 में आए थे और सबसे आखिर 1961 में गए थे।

वहीं, आपको बता दें कि गोवा के मुक्ति संग्राम से राम मनोहर लोहिया का संबंध रहा है। गोवा मुक्ति संग्राम की अगुवाई में डॉक्टर लोहिया ने गिरफ्तारी दी थी। 19 दिसंबर को गोवा लिबरेशन डे या गोवा मुक्ति दिवस मनाया जाता है। आज इसी गोवा मुक्ति संग्राम के सेनानियों को पीएम मोदी सम्मानित करने वाले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button