विज्ञापन
अंतर्राष्ट्रीय
Trending

ईयू के शीर्ष नेताओं से मिले पीएम Narendra Modi, G-20 सम्मेलन के अलावा होनी हैं कई द्विपक्षीय बैठकें

जी-20 शिखर सम्मेलन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल और रोम में यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष उर्सुला वान डेर लेयेन के साथ एक संयुक्त बैठक की। दो दिवसीय शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) शुक्रवार को इटली पहुंचे हैं। उम्मीद है कि जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के अलावा पीएम मोदी कई द्विपक्षीय बैठकें भी कर सकते हैं।

शिखर सम्मेलन में भाग लेने के अलावा प्रधानमंत्री की कई देशों के प्रमुखों के साथ बैठक होने की संभावना है। सूत्रों ने दावा किया कि शिखर सम्मेलन के पहले दिन इस तरह की कम से कम तीन बैठकें होने वाली हैं। पीएम मोदी इस अवसर का उपयोग जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले देशों के साथ अधिक से अधिक सहयोग सुनिश्चित करने के लिए करेंगे। जी-20 सम्मेलन में वैश्विक अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य, सतत विकास, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन पर विशेष ध्यान केंद्रित किया जाएगा। Also Read – अफगानिस्तान में पह

यहां पहुंचने पर पीएम मोदी ने कहा कि वह इस यात्रा के दौरान अन्य व्यस्तताओं को भी देख रहे हैं। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘@g20org शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए रोम आया हूं। यह प्रमुख वैश्विक मुद्दों पर विचार-विमर्श करने के लिए एक महत्वपूर्ण मंच है। रोम की इस यात्रा के दौरान अन्य कार्यक्रमों पर भी मेरा ध्यान है।’ शाम को पीएम मोदी इटली के प्रधानमंत्री के साथ उनके आवास पर मुलाकात कर सकते हैं।

30 अक्टूबर को प्रधानमंत्री का वेटिकन में सुबह-सुबह पोप फ्रांसिस से मिलने का कार्यक्रम है और G-20 शिखर सम्मेलन के पहले सत्र ‘वैश्विक अर्थव्यवस्था और वैश्विक स्वास्थ्य’ में भाग लेंगे। उसी दिन प्रधानमंत्री मोदी की फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रान के साथ एक बैठक है और इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो के साथ भी उनकी एक बैठक होने वाली है। पीएम मोदी के सिंगापुर के पीएम ली होसेन लूंग के साथ भी बैठक करने की उम्मीद है। इसके अगले दिन जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री की स्पेन के पीएम पेड्रो सांचेज और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल के साथ बैठक करने की उम्मीद है।

विज्ञापन
Show More

Support Us!

‘प्रबुद्ध जनता’ जनवादी पत्रकारिता करता है। यह संविधान, लोकतंत्र और सामाजिक न्याय पर चलने वाला एक डिजिटल मीडिया है। अगर आप भी चाहते हैं कि ‘प्रबुद्ध जनता समाचार’ हमेशा हाशिए पर खड़े लोगों की आवाज़ बुलंद करता रहे और तुरंत की सभी लेटेस्ट खबरे आप तक पहुंचाता रहे तो इसे हम तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करेंगें इसलिए हमारी आपसे यह अपील है कि आप स्वेच्छा से प्रबुद्ध जनता समाचार का सहयोग करें। जिससे हमारी समाचार कवरेज़ खासकर फील्ड रिपोर्टिंग को मदद मिल सके।

Related Articles

Back to top button