प्रदेश
Trending

सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाली कोई भी घटना नहीं होगी बर्दाश्त- Ashok Gehlot

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot)  ने यूपी और एमपी में कथित रूप से धर्म के आधार पर दिहाड़ी मजदूरों और रेहड़ी पटरी वालों के साथ मारपीट की कुछ घटनाओं पर चिंता जताई है. सीएम गहलोत ने कहा कि राजस्थान (Rajasthan) में इस तरह की घटनाओं को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

सीएम गहलोत ने ट्वीट के माध्यम से दावा किया है कि सोशल मीडिया (Social Media) पर यूपी और एमपी से लगातार मारपीट के वीडियो सामने आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि धर्म के आधार पर गरीब दिहाड़ी मजदूरों, ठेला लगाने वाले एवं रेहड़ी-पटरी वालों के साथ मारपीट (UP-MP Beaten) की जा रही है. सीएम गहलोत ने कहा कि यह स्थिति और भी चिंताजनक है. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं पर वहां की सरकारें कोई कार्रवाई नहीं कर रही हैं

सांप्रदायिकता को दिया जा रहा बढ़ावा’

सीएम गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि घटना होना एक बात है लेकिन इन पर कार्रवाई न करके सांप्रदायिकता को बढ़ावा दिया जा रहा है. सीएम गहलोत ने इसे संविधान के अनुच्छेद 15 व 25 का उल्लंघन बताया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत जैसे पंथनिरपेक्ष लोकतांत्रिक देश में ऐसी घटना होना और उन पर पुख्ता कार्रवाई ना होना बेहद दु:खद है.
राजस्थान के सीएम ने कहा कि राज्य में इस तरह की इस तरह की घटना को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

‘UP-MP में बिगड़ रहा आपसी सौहार्द’

बता दें कि हाल ही में मध्य प्रदेश में एक चूड़ी बेचने वाले के साथ भीड़ ने मारपीट की थी. दरअसल उस पर एक बच्ची के साथ मारपीट का आरोप लगा था. इंदौर में चूड़ी वाले के साथ हुई मारपीट के बाद देवास में भी फेरीवाले के साथ दो युवकों के द्वारा मारपीट की घटना सामने आी थी. बताया जा रहा है अराजक तत्वों ने राह चलते फेरीवाले से आधार कार्ड मांगा था. जब उसने आधार कार्ड नहीं होने की बात कही, तो युवकों ने उसे मारना शुरू कर दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button