छत्तीसगढ़

Livelihood Mission से जुड़ी महिला स्व सहायता समूहों के कार्यों का नीति आयोग की टीम ने की सराहना

संवाददाता राजा कोष्टा – जगदलपुर – बकावंड विकासखण्ड के चितालुर, ढोढरेपाल, किंजोली में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (Livelihood Mission) बिहान के तहत महिला स्व सहायता समूह से जुडी महिलाओं के द्वारा किए जा रहे कार्यो का नीति आयोग की टीम ने की सराहना। महिला स्व सहायता समूह द्वारा चितालुर में चैनलिंक निर्माण किया जा रहा है। समूह के आजीविका गतिविधि को नीति आयोग की टीम ने अवलोकन करते हुए चैनलिंक का निर्माण की प्रक्रिया के लिए आवश्यक संसाधन की व्यवस्था तथा तैयार उत्पाद की बिक्री के लिए मार्केट की जानकारी ली। चैनलिंक निर्माण में लगे समूह की महिलाओं की कार्यशैली को देखते हुए नीति आयोग के प्रतिनिधि प्रीति स्याल ने स्वयं बना कर देखा और कहा कि महिलाएं भी उद्यमी बन रही है।

इसके उपरांत नीति आयोग की टीम ने ढोढरेपाल गौठान में महिला समूह द्वारा उद्यान विभाग के समन्वय से पपीता बाड़ी,केला बाड़ी,गेन्दा फूल, साग-सब्जी और वर्मी कंपोस्ट निर्माण के आजीविका गतिविधि को देख समूह के सदस्यों से चर्चा किए उक्त गतिविधि से उत्पाद और आय की भी जानकारी ली।

ग्राम किंजोली मे वनधन विकास केंद्र में वनोपज से संबंधित विपणन और प्रसंस्करण कार्य में लगे वर्षा समहू से वनोपज की खरीदी एवं समूह के आय के संसाधनों की संबंध में चर्चा किए। अंदरूनी क्षेत्रों में ग्रामीण जनों को दी जा रही बैंकिंग सेवाएं बी.सी. सखी के कार्यों का भी अवलोकन करते हुए नीति आयोग की टीम ने महिलाओं को बस्तर में इस प्रकार के कार्य करते देख प्रशंसा करने लगे। इस अवसर पर उद्यान विभाग के अधिकारी कुशवाहा, कृषि विभाग के अधिकारी विकास साहू, एनआरएलएम के एपीओ नेहा देवांगन, डीपीएम राजकुमार देवांगन सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Livelihood Mission से जुड़ी महिला स्व सहायता समूहों के कार्यों का नीति आयोग की टीम ने की सराहना
Livelihood Mission से जुड़ी महिला स्व सहायता समूहों के कार्यों का नीति आयोग की टीम ने की सराहना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button