छत्तीसगढ़प्रदेश

कांकेर को मॉडल जिला बनायें-श्री सोनमणि बोरा आकांक्षी जिला के विभिन्न सूचकांकों का किया समीक्षा

Advertisement
Advertisement

कांकेर -भूमि संसाधन विभाग, ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार के संयुक्त सचिव एवं आकांक्षी जिला कांकेर के सेंट्रल प्रभारी ऑफिसर श्री सोनमणि बोरा ने आज कांकेर में जिला अधिकारियों की बैठक लेकर आकांक्षी जिला के सूचकांक पर विस्तृत समीक्षा की एवं अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। बैठक में जिले के कलेक्टर श्री चन्दन कुमार, डीएफओ अरविन्द पीएम एवं आर.सी. मेश्राम, अपर कलेक्टर श्री सुरेन्द्र प्रसाद वैद्य, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सुमित अग्रवाल सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।
श्री सोनमणि बोरा ने आकांक्षी जिला के विभिन्न सूचकांकों स्वास्थ्य एवं पोषण, शिक्षा, कृषि एवं जल संसाधन, कौशल एवं वित्तीय समावेश, बुनियादे ढांचे इत्यादि क्षेत्र में किये गये कार्यों एवं उपलब्धियों की समीक्षा की तथा डेल्टा रैकिंग में सुधार के लिए सभी विभागों को मिलकर कार्य करने की समझाईश दी। उन्होंने कहा कि आकांक्षी जिला के सूचकांकों में कांकेर जिले में अच्छा कार्य हो रही है, शत-प्रतिशत उपलब्धि हासिल करने के लिए सभी विभाग मिलकर काम करते हुए कांकेर जिले को मॉडल बनायें तथा पूरे देश में टॉप-टेन में स्थान बनायें और इसमें निरंतरता बनाये रखें।

श्री बोरा द्वारा स्वास्थ्य एवं पोषण सूचकांक की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जिले में 192 हाट-बाजारों में मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना संचालित है, जून 2019 से लेकर अब तक 01 लाख  38 हजार 415 व्यक्ति इससे लाभान्वित हो चुके हैं। जिले में 177 उप स्वास्थ्य केन्द्र एवं 31 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बनाया गया है। कुपोषित बच्चों एवं माताओं को रागी से बना हलवा एवं कोदो का खिचड़ी खिलाया जा रहा है। कोविड-19 टीकाकरण का कार्य कांकेर जिले में 16 जनवरी 2021 से प्रारंभ किया गया। जिले में 95.05 प्रतिशत व्यक्तियों को प्रथम डोज एवं 54.12 प्रतिशत व्यक्तियों को द्वितीय डोज का टीका लगाया जा चुका है।

कौशल एवं वित्तीय समावेशन की समीक्षा के दौरान बताया गया कि खनिज प्रभावित क्षेत्र के गांव के युवाओं को लोडर ऑपरेटर, सिक्युरिटी गार्ड, डाटा एंट्री ऑपरेटर, हैवी कमर्शियन व्हिकल डा्रइवर इत्यादि का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। श्री बोरा द्वारा अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने के निर्देश भी दिये। कलेक्टर श्री चन्दन कुमार ने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनके द्वारा जो भी मार्गदर्शन दिये गये हैं, उन पर अमल करते हुए जिले में उपलब्धि हासिल की जायेगी।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button