मध्य प्रदेश

Madhya Pradesh: तेल गोदाम में लगी भीषण आग, 10 से ज्यादा गाड़ियों ने की आग पर काबू पाने की कोशिश

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सागर में आज एक तेल के गोदाम में आग (Fire In Oil Warehouse) लग गई. यह घटना तिलकगंज इलाके में झूला तिराहे के पास हुई. गोदाम में लगी आग देखते ही देखते तेजी से भड़क गई. कुछ ही देर में आग हर तरफ फैल गई. घटना की खबर मिलते ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंचे. वहीं दमकल विभाग (Fire Brigade) की गाड़ियां भी मौके पर पहुंच गईं. बेकाबू आग को देखकर नगर निगम सागर, मकरोनिया नगर पालिका की दमकल की गाड़ियों के अलावा बीना, आगसौद, बिलहरा, बंडा, सुरखी से भी गाड़ियां बुलाई गईं. दमकल की 10 से ज्यादा गाड़ियों ने आग पर काबू पाने की कोशिश की

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बुधवार दोपहर को तीन मंजिला तेल के गोदाम में भीषण आग लग गई. देखते ही देखते आग की लपटों ने पूरे गोदाम को अपनी चपेट में ले लिया. इस हादसे की खबर से इलाके में हड़कंप मच गया. वहीं पास के सभी घर तुरंत खाली करा लिए गए. आग और भड़कने के डर से घरों में रखे गैस सिलेंडर भी सड़क पर रख दिए गए. भीषण आग की वजह से गोदाम के भीतर से गर्म तेल का रिसाव सड़क पर हो रहा है. मौके पर पहुंची पुलिस (Sagar Police) ने लोगों की भीड़ को वहां से हटा दिया. साथ ही घटनास्थल की तरफ आने वाले सभी रास्तों को भी बंद कर दिया गया है.

सागर के CSP रविंद्र मिश्रा ने बताया कि हादसे का शिकार तेल का गोदाम एसआर ट्रेडर्स सुरेशचंद जसवानी का है. अधिकारी का कहना है कि शुरुआती जांच में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट लग रहा है. हालांकि आग से होने वाले नुकसान का आंकलन अभी नहीं हुआ है. ये पता नहीं चल सका है कि गोदाम के भीतर कितना तेल रखा हुआ था. खबर के मुताबिक पांच घंटे से ज्यादा कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काब पाया जा सका. 15 से ज्यादा फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया गया

वहीं आर्मी की भी दो गाड़ियां मौके पर पहुंची. एसपी तरुण नायक का कहना है कि जगह कम होने की वजह से आग पर काबू पाने में परेशानी हो रही थी. दमकल की गाड़ियां आग की भयानक लपटों पर काबू नहीं कर पा रही थीं, जिसके बाद सेना की मदद से घंटों बाद आग की लपटों पर काब पाया जा सका. खबर के मुताबिक दोपहर तरीब 11 बजे गोदाम में भीषण आग लग गई थी. आस पास लकड़ी का टाल और रिहायशी इलाका था, सुरक्षा की वजह से इलाके को पहले ही खाली करा लिया गया था

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button