उत्तर प्रदेश
Trending

Kanpur Violence: कानपुर हिंसा पर एक्शन में योगी सरकार, 35 गिरफ्तार

Kanpur Violence: कानपुर के बेकनगंज में शुक्रवार को हुई हिंसा के मामले में तीन प्राथमिकी (FIR) दर्ज की गई है. इनमें से दो FIR पुलिस की तरफ से जबकि तीसरी FIR मारपीट व तोड़फोड़ के शिकार हुए शख्स की ओर से दर्ज कराई गई है. FIR में 40 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है.

वहीं, 1000 अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया गया है. बता दें कि मामले में अब तक 35 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इन आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी. उनकी संपत्तियों को जब्त किया जाएगा और बुल्डोजर भी चलेगा

पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश तिवारी ने जानकारी दी है कि कानपुर हिंसा में 13 पुलिस कर्मी भी घायल हुए हैं. साथ ही हिंसा में दोनों पक्ष के 30 लोग भी घायल हुए हैं. कई गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की गई है. साथ ही कई दुकानों में भी लूटपाट हुई थी. पुलिस ने लूटपाट, मारपीट, बलवा समेत कई धाराओं में FIR दर्ज की है.

उन्होंने बताया कि सीसीटीवी और वीडियो फुटेज के जरिए पहचान करने के बाद अब तक 35 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि पुलिस अधिकारी गाड़ियों से इलाके में राउंड लगा रहे हैं जबकि डीएम नेहा शर्मा, पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा, मंडल आयुक्त राजशेखर पैदल ही इलाके में गश्त कर लोगों में सुरक्षा का विश्वास जगा रहे हैं. इलाके की बेगमगंज यतीमखाना नई सड़क इलाके को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया है

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के मुताबिक, इस घटना को शासन ने बहुत गंभीरता से लिया है. घटना की गंभीरता को समझते हुए अतिरिक्त पुलिस बल भी तैनात किया गया है, जिसमें 12 कंपनी और एक प्लाटून पीएसी शामिल है. इसके अलावा सभी डीएसपी, पुलिस कमिश्नर, डीएम और मंडलायुक्त राजशेखर यतीमखाना पुलिस चौकी में डेरा जमाए हुए हैं.

जिन लोगों ने भी उपद्रव किया है, उनकी पहचान की जा रही है. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने बताया कि कानपुर के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि राउंड द क्लॉक पुलिस प्रशासन की ड्यूटी लगे तथा हर हालत में शांति व्यवस्था बरकरार रहे. उत्तर प्रदेश शासन व पुलिस किसी भी स्थिति स्थिति में शांति व्यवस्था को भंग नहीं होने देगी

उधर, पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा ने कहा कि पुलिस को पर्याप्त वीडियो फुटेज मिले हैं. इसके जरिए दंगाईयों की पहचान की गई है. उन सभी के खिलाफ FIR दर्ज कर लिया गया है. सभी दंगाईयों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई होगी. इसके साथ उनकी संपत्ति जब्त होगी और उनके मकानों पर बुलडोजर भी चलेगा. स्थानीय लोगों से अपील है कि शांति व्यवस्था बनाए रखें. प्रशासन का सहयोग करें, उपद्रवियों पहचानने में हमारी मदद करें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये प्रदेश के कानून व्यवस्था की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने कानपुर में हुई घटना की पुलिस कमिश्नर से जानकारी ली. इसके बाद उन्होंने दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया. उन्होंने कहा कि कानपुर की घटना में बिना किसी रियायत के कठोर कार्रवाई सुनिश्चित करें. अधिकारी छोटी से छोटी सूचना को गंभीरता से लें

Related Articles

Back to top button