छत्तीसगढ़

गरिमामय ढंग से उत्साह पूर्वक मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

कांकेर – भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस को कांकेर जिले में गरिमामय ढंग से उत्साह पूर्वक मनाया गया, शासकीय कार्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थाओं में प्रातः 7.30 बजे ध्वजारोहण कर राष्ट्रगान हुआ। शासकीय नरहरदेव उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कांकेर के खेल मैदान में आयोजित जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में मुख्य अतिथि जिले के प्रभारी मंत्री श्रीमती अनिला भेड़िया ने प्रातः 09 बजे ध्वजारोहण कर सलामी ली। राष्ट्रगान पश्चात उनके द्वारा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जनता के नाम संदेश का वाचन किया गया, इस अवसर पर कलेक्टर श्री चन्दन कुमार और पुलिस अधीक्षक श्री शलभ कुमार सिन्हा भी उनके साथ थे। जिला पुलिस बल एवं होमगार्ड के जवानों द्वारा राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी गई।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जनता के नाम संदेश वाचन में प्रभारी मंत्री श्रीमती अनिला भेड़िया ने कहा कि सत्य, अहिंसा, शांति, करूणा, संवेदनशीलता, गरीबों के आंसू पोंछना और कमजोर तबकों को शक्ति देना ही हमारी पहली प्राथमिकता है। हमनें मात्र तीन वर्षों में एक ओर जहां निरस्त दावों की समीक्षा करके बड़े पैमाने पर व्यक्तिगत वन अधिकार पत्र दिये, वहीं दूसरी ओर 44 हजार से अधिक और 02 हजार 500 से अधिक सामुदायिक वन संसाधन अधिकार पत्र दिये हैं। नगरीय क्षेत्रों में भी वन अधिकार पत्र देने वाला अग्रणी राज्य हमारा छत्तीसगढ़ बन गया है। वन अधिकार की जमीनों पर धान उपजाने  या वृक्ष लगाने वाले लोगों को भी राजीव गांधी किसान न्याय योजना और मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना से जोड़ा गया है। छत्तीसगढ़ में बीते दो वर्षों में 01 हजार 173 करोड़ रूपये की लघु वनोपज खरीदी की गई है।

विगत एक वर्ष में 263 नये धान खरीदी केन्द्र खोले गये और 20 लाख 93 हजार किसानों से 92 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी समर्थन मूल्य पर की गई। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत् इस वर्ष भी 05 हजार 703 करोड़ रूपये की राशि चार किश्तों में दी जाएगी। राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत् लगभग 10 लाख मजदूर भाई-बहनों को 06 हजार रूपये सालाना अनुदान सहायता दिया जाएगा। छत्तीसगढ़ राज्य में स्थानीय संसाधनों और परंपरागत कौशल को निखारकर जनता के आर्थिक-सामाजिक सशक्तीकरण के लिए ‘रजककार विकास बोर्ड’, लौह शिल्पकार विकास बोर्ड, तेलघानी विकास बोर्ड, चर्म शिल्पकार विकास बोर्ड जैसे संस्थाओं का गठन किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जनता के नाम संदेश का वाचन करते हुए मुख्य अतिथि श्रीमती अनिला भेड़िया ने कहा कि नई प्रशासनिक ईकाईयों का गठन विभिन्न क्षेत्रों में न्याय की खुशखबरी लेकर आता है। पहले भी हमने 04 नये अनुविभाग और 29 तहसीलें बनाई हैं, 25 तहसीलों के गठन का कार्य भी शीघ्र पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल योजना को विकासखण्ड स्तर तक ले जाना चाहते हैं। मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान की तरह अब मलेरिया मुक्त छत्तीसगढ़ अभियान का शंखनाद किया गया है। बस्तर फाइटर्स बटालियन के तहत् 02 हजार 800 नए पदों पर भर्ती की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री बघेल का संदेश वाचन के पश्चात् मुख्य अतिथि श्रीमती अनिला भेड़िया द्वारा हर्ष एवं उमंग के प्रतीक गुब्बारे नील गगन में छोड़े गये, उसके बाद शहीद परिवारों को शॉल एवं श्रीफल से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button