छत्तीसगढ़
Trending

विभाग के अनदेखी से भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी सड़क- मेमन मामला

छत्तीसगढ़: भानुप्रतापपुर ग्रामीण इलाकों से जोड़ने वाली पीडब्ल्यूडी विभाग कि सड़क रिपेरिंग नई सड़क योजना का मजाक बनाया जा रहा है तत्काल रिपेयरिंग की गई व नई सड़कों की हालत बेहद खराब है. ठेकेदार और अधिकारी मिलीभगत से इन सड़कों को गुणवत्ता विहीन बनाने में लगे हैं सड़के इतनी कमजोर हैं कि इन्हें आसानी से उखाडा रही है। पीडब्ल्यूडी विभाग के द्वारा विनायकपुर डुआ से सिवनी मेन रोड तक 6 किलोमीटर सड़क आरसी जैन दुर्ग के ठेकेदार द्वारा सड़क व पुल पुलिया का गुणवत्ताहीन निर्माण किया जा रहा हैं।

इस बात की जानकारी ग्रामीणों ने एनएसयूआई प्रदेश सचिव एवं लोकसभा अध्यक्ष रूहाब मेमन को दि जिस पर संज्ञान लेते हुए रूहाब मेमन अपने कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंचकर देखा तो वहां पर कोई भी विभागीय अधिकारी या कर्मचारी मौजूद नहीं था और पुरानी मशीनों से गुणवत्ता हीन काम चल रहा था। जिस पर उन्होंने मौके से ही पीडब्ल्यूडी विभाग के अधीक्षण अभियंता पवन अग्रवाल

को इस घटिया सड़क निर्माण कार्य की जानकारी दी और कहा कि आपके विभाग के द्वारा आसपास के अन्य ग्रामीण क्षेत्रों से गुणवत्ता हीन सड़क बनने की सूचना लगातार प्राप्त हो रही है कहीं ना कहीं इसमें अधिकारियों व ठेकेदारों की मिलीभगत उजागर हो रही है अधिकारियों के इन रवैया से राज्य में बैठी हमारी सरकार की बदनामी हो रही है

ग्रामीण इलाकों को सीधे शहरी इलाकों से जोड़ने वाली सड़कों का कार्य भानूप्रतापपुर पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा टेंडर के माध्यम से निकाला गया था कंपटीशन के कारण  ठेकेदारों ने भारी घाटे में  सड़कों का कार्य  निविदा से लिया , अपने घाटे को  मेंटेन करने के लिए करोड़ों की लागत से बन रही सड़कें पूरी तरह गुणवत्ताहीन बना रहे हैं , बताया जा रहा है कि जहां सड़क बन रही है वहां ना तो वहां इंजीनियर है और ना ही विभाग का कोई अधिकारी मौजूद है , सारे काम  ठेकेदारो के भरोसे हो रहे हैं ठेकेदार भी बेधड़क घटिया टायरिंग का काम करवा रहे हैं. नतीजा ये है कि सड़कें पूरी तरह गुणवत्ताहीन और घटिया दर्जे की बन रही हैं। शिकायत करने के बाद गुरुवार को विभाग के अधिकारी जांच में पहुंचे जांच के दौरान उन्होंने पाया कि सड़क का निर्माण घटिया तरीके से हुआ है और घोर लापरवाही बरती गई हैं। सड़क में थिकनेश कही कहि पर एक इंच से भी कम है और डामर बिछाते समय डामर का टेम्परेचर सही नहीं होने के कारण सड़क हाथों से ही उखड़ रहा है। डामर की क्वालिटी भी घटिया लग रही है उसमें नमी होने के कारण ठीक से चिपक नहीं रही है।
एसडीओ लोक निर्माण विभाग- बीएल पिस्दा
सड़क की जांच में पाया गया कि निर्माण काफी घटिया हुआ है। डामर की मात्रा काफी कम है और उसमें नमी की वजह से सड़क उखड़ रही है। ठेकेदार को सड़क को उखाड़ कर फिर से सड़क बनाने कहा जायेगा।

Show More

Related Articles

Back to top button