अपराध
Trending

15 लाख रुपए हड़पने के लिए पति ने रची सादिश, पत्नी को फेका ट्रक के सामने

हरियाणा के पानीपत (Panipat) जिले में एक पति अपनी पत्नी से इतनी नफरत करने लगा कि उसकी हत्या (Murder) की साजिश ही रच डाली. पहले उसने पत्नी के नाम पर दो वाहन लिए. फिर उनकी किस्त माफ कराने और इंश्योरेंस के 15 लाख रुपए हड़पने के लिए ट्रक के आगे धक्का दे दिया. आरोपित ने पत्नी की हत्या को हादसे का रूप देने के लिए षड़यन्त्र के तहत सड़क दुर्घटना में मौत होने की शिकायत देकर थाना औधोगिक सैक्टर-29 में गत 30 जून को शिकायत दर्ज करवाई थी

पुलिस ने आरोपित नसीब निवासी जाजवान जिला जीन्द हाल कुराना पानीपत को गिरफ्तार कर लिया है. सीआईए-थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने प्रकरण की विस्तृत जानकारी दी. उन्होंने बताया कि गत 30 जून को थाना आधौगिक सेक्टर-29 में नसीब पुत्र जगदीश निवासी जाजवान जिला जीन्द हाल कुराना पानीपत ने शिकायत देते हुए बताया था कि 29 जून की रात उसकी पत्नी जरीना को पेट मे दर्द हो गया. 30 जून को दवाई दिलवाने के लिए वह पत्नी जरीना को कार मे बैठाकर पानीपत जा रहा था. उसने बतााया क पानीपत, रोहतक बाइपास पर दोनों नहरों से थोड़ा आगे निकलने पर जरीना को उल्टी आने को हुई तो उसने कार को रोड किनारे साइड में रोक लिया. जरीना कार से नीचे उतरकर टहलने लगी. इसी दौरान एक ट्रक चालक लापरवाही से ट्रक को चलाते हुए आया जिसने जरीना को सीधी टक्कर मारी और ट्रक रोंदते हुए उपर से गुजर गया. पत्नी जरीना की मौके पर ही मौत हो गई. चालक ट्रक सहित मौके से फरार हो गया ट्रक का नंबर भी नोट नहीं हो सका

पुलिस ने जरीना के शव का सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के हवाले कर दिया. नसीब की शिकायत पर अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही की गई थी. इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने बताया की पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने इस मामले की गहनता से तफतीश करने की जिम्मेवारी सीआईए-थ्री पुलिस टीम को सौंपी थी. पुलिस टीम ने तफ्तीश करते हुए शिकायतकर्ता व मृतक महिला के पति नसीब पर संदेह होने पर गहनता से पुछताछ की. नसीब ने जरीना की हत्या करने की वारदात को स्वीकारा. नसीब ने बताया कि वह पत्नी को पंसद नहीं करता था. उसने योजना बनाई कि पत्नी जरीना की हत्या कर इंश्योरेंस के पैसे हड़प लिए जाए

नसीब ने पत्नी जरीना के नाम पर एक बाइक व एक आई-10 कार एजेंसी से निकलवाई. साथ ही वाहनों को फाईनेंस करवाते हुए आरोपित ने ऐसी स्कीम को चुना जिसमे वाहन मालिक की मौत होने पर बची सभी किश्ते माफ व परिजनों को 15 लाख रूपए मिल जाए. नसीब 30 जून को पत्नी जरीना को पानीपत रोहतक बाइपास पर सिवाह के नजदीक ले गया. वहा बातों मे उलझाते हुए जरीना को एक ट्रक के आगे धक्का दे दिया. जरीना की मौके पर मौत होने के बाद पहले से तय योजना के तहत अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ लापरवाही से ट्रक चलाते हुए पत्नी की हत्या करने का मुकदमा दर्ज करवा दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button