विज्ञापन
उत्तर प्रदेश
Trending

Gyanvapi Case: ज्ञानवापी के वुजूखाने में गंदगी फैलाने संबंधी अर्जी पर आज होंगी सुनवाई

Gyanvapi Case: ज्ञानवापी के वुजूखाने में गंदगी और नेताओं की बयानबाजी पर दाखिल अर्जी पर मंगलवार को एसीजेएम-पंचम उज्ज्वल उपाध्याय की अदालत में सुनवाई होगी। प्रभारी अदालत ने पिछली तिथि पर सम्बंधित पीठासीन अधिकारी के समक्ष पेश करने का आदेश देते हुए सुनवाई के लिए 14 जून की तिथि नियत की थी। वादी हरिशंकर पांडेय ने विस्तृत हलफनामा भी दाखिल किया था। वादी ने अधिवक्ता अजय प्रताप सिंह को भी अपने ओर से पैरवी करने के लिए उक्त प्रार्थना पत्र में वकालतनामा लगाया है।

वरिष्ठ अधिवक्ता हरिशंकर पांडेय ने कोर्ट में प्रार्थनापत्र देकर बताया है कि छह मई को सर्वे टीम ज्ञानवापी मस्जिद में कमीशन की कार्यवाही करने गई थी। उस दिन जुमे की नमाज के लिए बड़ी संख्या में नमाजी मौजूद थे। नमाजियों ने वजूखाने में हाथ-पैर धोए और गंदगी फैलाई जबकि वह भगवान शिव का स्थान है। यह हिंदू समाज के लिए अपमानजनक है।

अर्जी के अनुसार एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव आदि ने ज्ञानवापी प्रकरण पर बयान देकर हिंदुओं की भावनाओं पर कुठाराघात किया है। अधिवक्ता ने अंजुमन इंतजामिया कमेटी के अध्यक्ष मौलाना अब्दुल वाकी, मुफ्ती-ए-बनारस मौलाना अब्दुल बातिन नोमानी, कमेटी के संयुक्त सचिव सैय्यद मोहम्मद यासीन को भी प्रार्थना पत्र में शामिल किया है। उन्होंने कमीशन कार्यवाही के दौरान विरोध, बाधा पहुंचाने और वुजूखाने में गंदगी फैलाने के आरोप में सभी आरोपितों पर मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है

विज्ञापन
Show More

Support Us!

‘प्रबुद्ध जनता’ जनवादी पत्रकारिता करता है। यह संविधान, लोकतंत्र और सामाजिक न्याय पर चलने वाला एक डिजिटल मीडिया है। अगर आप भी चाहते हैं कि ‘प्रबुद्ध जनता समाचार’ हमेशा हाशिए पर खड़े लोगों की आवाज़ बुलंद करता रहे और तुरंत की सभी लेटेस्ट खबरे आप तक पहुंचाता रहे तो इसे हम तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करेंगें इसलिए हमारी आपसे यह अपील है कि आप स्वेच्छा से प्रबुद्ध जनता समाचार का सहयोग करें। जिससे हमारी समाचार कवरेज़ खासकर फील्ड रिपोर्टिंग को मदद मिल सके।

Related Articles

Back to top button