Advertisement
छत्तीसगढ़प्रदेश
Trending

राज्यपाल अनुसुइया उइके ने किया लोकगायिका आरु साहू का सम्मान

नारद साहू: नगरी- वृंदावन बैरन बाजार रायपुर में “कर्मयोगिनी सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस सम्मान समारोह में “छू लो आसमान बस चाहिए थोड़ा सम्मान “के थीम के तहत बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का यह कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें छत्तीसगढ़ के छत्तीस बेटियों को जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है उन सब को महामहिम राज्यपाल सुश्री अनुसुइया उइके के द्वारा सम्मान किया गया ,जिनमें सिहावा अंचल की पहचान नन्ही लोक गायिका ओजस्वी उर्फ आरु साहू भी शामिल है।

इस कार्यक्रम कीशुरुआत बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के प्रदेश संयोजक अंजय शुक्ला जी के उद्बोधन से हुआ जिसमें उन्होंने कहा बेटियां भारत की शान और अभिमान है बस आवश्यकता है तो उन्हें आगे बढ़ाने की उन्हें स्वावलंबी बनाने की और उन्हें उचित सम्मान देने की, उन्होंने देश में चल रहे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के उद्देश्य को भी विस्तार रूप से समझाया । इस कार्यक्रम में पहुंचकर महामहिम राज्यपाल जी बहुत ही गदगद और भाव विभोर हुई और बालिकाओं की प्रतिभा से प्रभावित होकर उन्होंने आगामी 8 मार्च (महिला दिवस )के अवसर में पुनः इन सभीबालिकाओं का सम्मान करने की घोषणा की है ।

इस सम्मान समारोह में विभिन्न क्षेत्र शिक्षा ,साहित्य,संस्कृति,खेल, पत्रकारिता ,पर्वतारोहण,, चिकित्सा आदि सभी क्षेत्र से आई हुई बालिकाओं का सम्मान किया गया ।
इस अवसर पर राज्यपाल महामहिम सु श्रीअनुसुइया उइके जी ने कहा कि आज बेटियां दुनिया के हर कोने में अपनी उपयोगिता को साबित कर रही है । उन्होंने कहा कि आज बेटियां घर संभालने से लेकर देश तक को भी संभाल रही है। बेटियां हर क्षेत्र में सफलता के नए आयाम लिख रही है।

साथी साथ उन्होंने कहा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को एक अभियान के रूप में ही नहीं बल्कि इसे “एक जन आंदोलन” के रूप प्रसारित वा प्रचारित किया जाए, जिसमें समाज के हर वर्ग की सहभागिता हो
भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि वर्तमान परिस्थिति में बेटियां देश के विकास के लिए अपना योगदान दे रही है आज बिटिया हवाई जहाज से लेकर समाज के सभी बड़े पदों पर अपनी प्रतिभा साबित कर रही हैं पुरुषों के मुकाबले एक बेहतर एडमिनिस्ट्रेटर साबित होती हैं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के राष्ट्रीय संयोजक डॉ राजेंद्र फड़के जी ने कहा

कि आज बिटिया हर हर जगह पुरुषों से कदम मिलाकर चल रही है चाहे वह राजनीति के क्षेत्र में हो या सामाजिक सेवा के क्षेत्र में आज बेटियां हर क्षेत्र में अपने कार्यों से अपनी योग्यता को साबित कर रही हैं। उन्होंने कहा कि हमें बेटियों के सम्मान के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में शामिल होकर यह संकल्प लेना चाहिए कि हमें बेटियों को बेटों के समान समझना चाहिए उनके साथ भी किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं करना चाहिए क्योंकि बेटियां आज बेटों से कम नहीं है हर क्षेत्र में बेटियां बेटों के साथ मिलकर काम कर रही है।

कार्यक्रम का संचालन श्रीमती शताब्दी पांडे ने किया ।कुमारी आरु साहू ने बेटियों से प्रेरित मनमोहक छत्तीसगढ़ी गीत प्रस्तुत कर सबका मन मोह लिया। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रदेश बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के छत्तीसगढ़ प्रभारी श्रीमती विभा राव जी, सह संयोजक चंपा देवी पावले ,श्रीमती संध्या परधनिया सदस्य, श्री एनके अग्रवाल ,श्री नंदे जी अजय तिवारी जी संध्या तिवारी डॉक्टर किरण बघेल शिखा तिवारी अनुराधा शुक्ला जी शोभना फरहद कार्यालय मंत्री दिवाकर जिले के सभी जिला संयोजक एवं सहसंयोजक उपस्थित थे। इस अंचल की बेटीलोकगायिका बेबी आरु साहू के निरंतर नित नए मुकाम हासिल करने से क्षेत्रवासियों में हर्ष व्याप्त है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button