कारोबारदेश/दुनिया

Godrej Korber ने भारत के कोल्ड चेन स्टोरेज सेक्टर को स्वचालित बनाया

गोदरेज कोर्बर ने वित्त वर्ष’25 तक कोल्ड चेन सेक्टर से राजस्व में 20% योगदान का लक्ष्य रखा

मुंबई: गोदरेज एंड बॉयस और जर्मन कंपनी, कोर्बर सप्लाई चेन की संयुक्त उद्यम कंपनी, गोदरेज कोर्बर Godrej Korber विशिष्ट स्वचालन समाधानों के माध्यम से भारत में भारतीय कोल्ड चेन क्षेत्र के लिए गोदामों को स्वचालित बनाने हेतु अपेक्षित बदलाव के कार्य को आगे बढ़ा रही है। गोदरेज कोर्बर वित्त वर्ष’23 में अत्यंत उन्नत एवं उच्च घनत्व वाली एएस/आरएस प्रणालियों को लाकर भारत के कोल्ड चेन क्षेत्र से राजस्व में 20% योगदान को हासिल करने की दिशा में अग्रसर है।

कोल्ड स्टोरेज क्षेत्र को उन चुनौतियों का सामना करना पड़ता है जिनका सामना अन्य ‘ड्राई’ वेयरहाउस (शुष्क गोदामों) को नहीं करना पड़ता है। कोल्ड स्टोरेज के परिचालन की उच्च लागत को देखते हुए यह बेहद महत्वपूर्ण है कि इसके स्थान का अनुकूल तरीके से सर्वोत्तम रूप में उपयोग किया जाए। भारत में, डेयरी या कोल्ड चेन उद्योग इंट्रालॉजिस्टिक्स स्वचालन की दृष्टि से विकसित नहीं हो पाया है क्योंकि कंपनियां आधुनिक कोल्ड स्टोरेज की डिज़ाइन के लाभों का अनदेखी करती हैं।

कोल्ड स्टोरेज की डिजाइन में उन्नत रेफ्रिजरेशन प्रौद्योगिकी के अलावा उच्च घनत्व वाली भंडारण प्रणाली भी शामिल है। शुष्क वातावरण की तुलना में शीत भंडारण (कोल्ड स्टोरेज) में काम करने वाले श्रमिकों को अधिक भुगतान की आवश्यकता के अलावा, इसमें अन्य प्रमुख चिंताएं भी हैं, जैसे कि फ्रीजिंग वेयरहाउस में काम करने के लिए व्यक्तियों को आकर्षित करना और उनकी भर्ती में कठिनाई। एएसआरएस सिस्टम, कन्वेयर और लेयर पिकर समाधानों जैसी स्वचालन प्रौद्योगिकियां तेजी से वितरण की गारंटी दे सकती हैं, जिससे संयंत्रों में फुटप्रिंट कम हो और उसकी जगह का अधिकतम उपयोग किया जा सके।

गोदरेज कोर्बर  को अगले 5 वर्षों में 18%-20% वृद्धि की उम्मीद है क्योंकि महामारी के बाद आपूर्ति श्रृंखला में स्वचालन को अपनाने की दिशा में बड़ा बदलाव आया है और इस प्रवृत्ति के लगातार बने रहने की आशा है। विनिर्माण क्षेत्र, संगठित 3पीएल, फार्मा, खुदरा, ई-कॉमर्स और खाद्य सेवा व्यवसायों के विकास के साथ-साथ बदलते खपत पैटर्न के कारण, सरकार कोल्ड चेन और कोल्ड स्टोरेज संयंत्रों में निवेश करने के लिए कंपनियों को बढ़ावा दे रही है और उत्साहजनक सहायता प्रदान कर रही है। इस पर विचार करते हुए, गोदरेज कोर्बर अग्रणी निजी कंपनियों के साथ-साथ सार्वजनिक-निजी साझेदारी परियोजनाओं के लिए स्वचालन उद्योग में बल्क हैंडलिंग पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

Godrej Korber

Godrej Korber के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट और बिजनेस हेड, सुनील डबराल ने बताया, “स्वचालित कोल्ड स्टोरेज संयंत्र का उद्देश्य प्रक्रियाओं को तेज करना और कर्मचारियों और वस्तुओं दोनों के लिए सुरक्षा बढ़ाना है। गोदरेज कोर्बर का उद्देश्य स्टेकर क्रेन और शटल आधारित एएस/आरएस समाधान सहित विशेष उच्च घनत्व भंडारण स्वचालन समाधान प्रदान करके इस परिवर्तन को भारत के कोल्ड स्टोरेज संयंत्रों में लाना है, जिससे मैन्युअल हैंडलिंग की आवश्यकता के बिना सभी पैलेटाइज्ड वस्तुओं के भंडारण को पूरी तरह से नियंत्रित किया जा सकता है।

 उन्नत तकनीक और नवाचार को एकीकृत करके, हम सभी क्षेत्रों में आपूर्ति श्रृंखला जटिलता से निपटने और भारत में बड़ी संख्या में कोल्ड चेन गोदामों को स्वचालित करने की इच्छा रखते हैं।”

कोल्ड चेन स्टोरेज के बढ़ते सेगमेंट की आवश्यकता पूरी करने के लिए, गोदरेज कोर्बर ने वित्त वर्ष 22 में ऑर्डर बुक्स भर जाने के साथ ऑर्डर प्राप्ति लक्ष्यों को पार कर लिया और वैश्विक कंपनी, कोर्बर सप्लाई चेन के साथ अपने सफल गठबंधन के कारण 4000 करोड़ रुपये के समग्र बाजार आकार पर हावी है।

Show More

Related Articles

Back to top button