राजनीति

दिग्विजय सिंह ने की अमित शाह और RSS की जमकर तारीफ

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने नर्मदा यात्रा पर लिखी किताब के विमोचन (Digvijay Singh Book Release on Narmada Yatra) के मौके पर गृह मंत्री अमित शाह और RSS की जमकर तारीफ की. उन्होंने तारीफ करते हुए कहा कि नर्मदा परिक्रमा के दौरान उन्हें सरकार और संघ की तरफ से काफी सहयोग (Digvijay Praise to Amit Shah or RSS) मिला था. दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह अमित शाह और संघ दोनों के ही सबसे बड़े आलोचक हैं,  लेकिन यात्रा के दौरान दोनों से मिले सहयोग को वह भूल नहीं सकते.

कांग्रेस नेता (Congress Leader) ने बताया कि उनकी नर्मदा यात्रा के दौरान अमित शाह ने फॉरेस्ट ऑफिसर से कहकर उनके लिए रेस्ट हाउस में व्यवस्था कराई थी. बड़ा आलोचक होने के बाद भी उनकी नर्मदा यात्रा (Narmada Yatra)  में कोई विघ्न न आए,  अमित शाह ने इस बात का पूरा ध्यान रखा. दिग्विजय सिंह ने कहा कि उनकी अमित शाह से कभी भी आमने-सामने मुलाकात नहीं हुई है. लेकिन फिर भी इस सहयोग ने लिए उन्होंने गृहमंत्री को धन्यवाद भेजा था

दिग्विजय सिंह ने की अमित शाह की तारीफ

किताब विमोचन के मौके पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि उनकी नर्मदा यात्रा के दौरान संघ और सरकार की मदद राजनीतिक सामंजस्य का प्रमाण है. उन्होंने कहा कि हम लोग इस बात को कभी-कभी याद नहीं रखते हैं. हम इन बातों को अक्सर भूल जाते हैं. कांग्रेस नेता ने कहा कि धुर-विरोधी होने के बाद भी यात्रा के दौरान सरकार ने उनका पूरा सहयोग किया. उन्होंने कहा कि उनके विचार हमेशा संघ के विचार से अलग रहे हैं. लेकिन फिर भी यात्रा के दौरान संघ के लोग उनसे मिलने आया करते थे.

दिग्विजय सिंह की 3,300 किमी लंबी नर्मदा पदयात्रा

दिग्विजय सिंह ने कहा कि विचारों से परस्पर विरोधी होने के बाद भी संघ कार्यकर्ताओं को उनसे मिलने का निर्देश दिया जाता था. वह नर्मदा यात्रा के दौरान मिले सहयोग के लिए उन्होंने संघ के साथ ही गृह मंत्री अमित शाह का भी आभार जताया.

बता दें कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने अपनी पत्नी अमृता सिंह के साथ मिलकर साल 2018 में नर्मदा परिक्रमा पदयात्रा की थी. 192 दिनों तक चली उनकी पद यात्रा नरसिंहपुर डजिले के बरमान घाट पर समाप्त हुई थी.घाट पर पहुंचकर कांग्रेस नेता ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर पूजा-अर्चना की थी. दोनों की यात्रा करीब 3,300 किलोमीटर लंबी थी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button