Advertisement
मनोरंजन

दंगल टीवी के सबसे लोकप्रिय शो “नथ ज़ेवर या जंजीर” के 100 एपिसोड्स पूरे, शानदार केक काटकर टीम ने मनाया जश्न

Advertisement

मुंबई : दंगल टीवी के सबसे चर्चित शो “नथ ज़ेवर या जंजीर” ने सेंचुरी बना ली है। जी हां, इस यूनिक स्टोरी वाले शो नथ के 100 एपिसोड्स पूरे हो गए हैं। इस खास मौके पर धारावाहिक के सेट पर शानदार केक काटकर पूरी स्टार कास्ट और टीम ने सफलता का जश्न मनाया।

लोगों को यह सीरियल काफी पसन्द आ रहा है। देखते देखते ही इसके हंड्रेड एपिसोड कंप्लीट हो गए। दंगल टीवी पर इसकी टीआरपी बहुत ही कमाल की आ रही है। हर एपिसोड में नया ट्विस्ट, नया टर्न आता है और इन रोचक मोड़ की वजह से यह सीरियल खूब धमाल मचा रहा है।

चाहत पाण्डेय द्वारा निभाया जा रहा महुआ का किरदार दर्शकों के दिलों पे छा गया है। महुआ की मासूमियत, उसकी परफॉर्मेंस, उसकी अदायगी ऑडिएंस को खूब भा रही है। चाहत पाण्डेय इस सौ एपिसोड के सफर से बेहद खुश और एक्साइटेड हैं। उन्होंने बताया कि नथ मेरे लिए बहुत ही स्पेशल शो है। इसमे उत्तर भारत की बोली संवाद में इस्तेमाल की गई है, मेरे पापा यूपी के हैं, इसलिए मुझे यह लैंगुएज और टोन पकड़ने में ज्यादा दिक्कत नही हुई और अब तो हमने इतना यह भाषा बोली है कि हम ऑफ द कैमरा भी वही बोलने लगे हैं।

दर्शकों का बेशुमार प्यार पाकर बेहद खुश हूं। मैं दंगल टीवी और पूरी टीम को बधाई और थैंक्यू कहना चाहूंगी कि मुझे महुआ का रोल प्ले करने का अवसर मिला। टीवी स्टार अर्जित तनेजा इस शो में अलग किस्म का किरदार शम्भू प्ले कर रहे हैं और उन्हें भी सराहा जा रहा है। अर्जित तनेजा ने कहा कि सौ एपिसोड का सफर बेहद इंट्रेस्टिंग रहा है। सेट पर माहौल बड़ा घरेलू किस्म का होता है और हमसब ने एन्जॉय किया है। नथ उतराई की कुप्रथा पर कटाक्ष करता यह सीरियल दर्शकों के दिलों को छू रहा है।
   

वहीं बूंदी के रोल में वैभवी कपूर ने भी अपनी गहरी छाप छोड़ी है। उसका क्यूट अंदाज और बदलता तेवर दर्शको के लिए काफी अच्छा है। वैभवी ने बताया कि नथ की पूरी टीम बेहद सपोर्टिव है और हम मिलजुल कर काम करते हैं। उत्तर भारत की भाषा और सही उच्चारण के लिए हम सब के लिए वर्कशॉप रखा गया था जो हमारे लिए काफी हेल्पफुल रहा।

अम्माँ जी (दादी) के रोल में प्रतिमा कनन को दंगल टीवी के दर्शक खूब लाइक कर रहे हैं। उनकी दमदार भूमिका और उनकी जानदार डायलॉग डिलीवरी ऑडिएंस के लिए एंटरटेनमेंट का तड़का होता है। प्रतिमा कनन ने बताया कि बड़ी खुशी की बात है कि इतनी जल्दी शो ने 100 एपिसोड पूरे कर लिए हैं। सीरियल में काफी पेस है, स्टोरी में इतना दम है कि दर्शक इसे खूब लाइक कर रहे हैं। हमे भी एक्ट करते हुए मजा आ रहा है। मैं दंगल टीवी को इसकी सफलता का क्रेडिट दूंगी कि उन्होंने नथ उतराई की कुप्रथा के सब्जेक्ट पर ऐसा सीरियल पेश किया।

मैं दंगल टीवी, निर्माता, निर्देशक, तमाम कलाकारों और खास कर दर्शकों को शुक्रिया और बधाई कहती हूँ जिनकी वजह से नथ सीरियल आज इस लेवल तक पहुंचा है। मेरा किरदार एक दबंग औरत का है और अगर कोई उसकी नहीं सुनता तो सीधे बंदूक तान देती है। मुझे 46 वर्षों का अनुभव है मगर अपने हर किरदार को मैं एक चुनौती के रूप में लेती हूं। उत्तर भारत की बोली के लिए हमें निर्माता ने टीचर अपॉइंट किया था उनसे मदद मिली और मेरा स्टाफ भी बिहार का रहने वाला है, उससे भी वहां की बोली समझने बोलने और सीखने में आसानी हुई।
भोजपुरी फिल्मों में अभिनेत्री के रूप में काम करने के बाद मेन स्ट्रीम के शो नथ में अंजना सिंह ने पद्मा का रोल बड़ी सहजता से अदा किया है। उनका कहना है कि मुझे खुशी है कि हमारा शो नथ जेवर या जंजीर 100 एपिसोड पूरे कर चुका है। हमें पता ही नही चला कि कितनी जल्दी इसके इतने सारे एपिसोड हो गए। पूरी टीम बधाई की हकदार है।      शो में अधिराज का निगेटिव रोल कर रहे करण खन्ना भी सौ एपिसोड कम्प्लीट होने पर उत्साहित हैं।

उन्होंने कहा कि मेरी एंट्री तो शो में बाद में हुई है मगर मुझे इसकी स्टोरी और मेरा किरदार काफी अलग लगा और यही वजह है कि दर्शक अधिराज को भी चाहने लगे हैं। ग्रे शेड्स जरूर हैं मेरे किरदार में मगर वह जस्टिफाई भी करता है। अवतार का रोल कर रहे रवि गोसाईं ने कहा कि नथ उतराई की कुप्रथा पर कटाक्ष करता यह सीरियल दर्शकों को काफी पसंद आ रहा है। यही वजह है कि हम सौ एपिसोड का जश्न मना रहे हैं। दंगल टीवी का यह शो नथ दर्शकों को बांधकर रखता है और आगे के एपिसोड को लेकर ऑडियंस में उत्सुकता बनी रहती है।       

चाहत पाण्डेय और वैभवी कपूर ने बताया कि आगे इस शो में हाई ड्रामा आने वाला है जो एकदम फ़िल्मी स्टाइल का ट्विस्ट होगा, वह दर्शकों को चौंका कर रख देगा। बस आप लोग यह शो यूंही देखते रहें।
शो नथ ज़ेवर या ज़ंजीर में अर्जित तनेजा, चाहत पाण्डे, करण खन्ना, अनुराग शर्मा , वैभवी कपूर, प्रतिमा कनन , रवि गोसाई , अंजना सिंह ,रिया भट्टाचार्जी ,ममता सोलंकी जैसे कलाकार हैं। दंगल टीवी पर नथ ज़ेवर या जंजीर हर सोमवार से शनिवार रात 10 बजे देखा जा सकता है।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button