मध्य प्रदेश

Chief Minister Shivraj Singh Chouhan की केन्द्रीय मंत्री श्री आर.के. सिंह से भेंट

नई दिल्ली – मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने आज केन्द्रीय ऊर्जा, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह से उनके कार्यालय श्रम शक्ति भवन में भेंटकर प्रदेश के वर्तमान ऊर्जा परिदृश्य से अवगत कराया और ऊर्जा क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की।  

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केन्द्रीय मंत्री सिंह को बताया कि मध्यप्रदेश ने एक साल में अपने ट्रांसमिशन लॉस 41 प्रतिशत से घटाकर 20 प्रतिशत तक ला दिये हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने केन्द्रीय मंत्री को नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में प्रदेश की प्रगति के बारे में अवगत कराया। चौहान ने बताया कि ओंकारेश्वर में 600 मैगावाट क्षमता का दुनिया का सबसे बड़ा फ्लोटिंग सोलर प्लांट निर्माणाधीन है जिसमें अबतक 300 मैगावाट के पी.पी.ए. समझौते किये जा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में मुरैना और छतरपुर जिलों में निकट भविष्य में सौर ऊर्जा संयंत्रों की स्थापना की जानी है। उन्होंने जानकारी दी कि प्रदेश में ऊर्जा परियोजनाओं में ऊर्जा भंडारण की क्षमता भी विकसित की जा रही है जिसमें अतिशेष ऊर्जा उत्पादन का भंडारण कर, कमी होने पर इसका उपयोग किया जा सकेगा। श्री चौहान ने आगे बताया कि प्रदेश में सौर और वायु ऊर्जा पर आधारित हाइब्रिड संयंत्रों पर भी काम किया जा रहा है। 

मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि बिजली की मांग पूरी करने के लिए राज्य बिजली बैंकिंग व्यवस्था पर निर्भर हैं।  बिजली बैंकिंग व्यवस्था के अंतर्गत मध्यप्रदेश अपनी अतिशेष विद्युत दूसरे राज्यों को प्रदान करता है और फसलों की बोनी और सिंचाई के समय अधिक मांग होने पर उन राज्यों से बिजली वापस ले लेता है। इस बैंकिंग व्यवस्था में किसी भी प्रकार का वाणिज्यिक लेने-देन शामिल नहीं है।

इसलिए मुख्यमंत्री चौहान ने बिजली बैंकिंग व्यवस्था को डिफॉल्ट के दायरे से बाहर रखने का अनुरोध किया। उन्होंने प्राप्ति (PRAAPTI) पोर्टल पर राज्य के डिस्कॉम और उत्पादक कम्पनियां को एक्सेस प्रदान करने का भी अनुरोध किया जिससे बिजली और भुगतान के आंकड़ों से संबंधित सूचनाएं समय पर अपडेट की जा सकें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि सितम्बर माह में मध्यप्रदेश अपने ऊर्जा संयंत्रों का मेंटेनेन्स करता है। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से मेंटेनेन्स के संबंध में भी अनुमति प्रदान करने का आग्रह किया।

केन्द्रीय मंत्री श्री सिंह ने प्रदेश को ट्रांसमिशन लॉस कम करने पर सराहना की। साथ ही श्री सिंह ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को सभी मुद्दों पर हरसंभव सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया। 

Show More

Related Articles

Back to top button