मध्य प्रदेशराजनीतिराष्ट्रीय

मुख्यमंत्री Shivraj Singh Chouhan की प्रधानमंत्री Narendra Modi से भेंट

नई दिल्ली : – मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान Shivraj Singh Chouhan ने आज पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अंतर्गत प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी Narendra Modi से उनके निवास स्थान पर भेंट की। भेंट के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को प्रदेश के विकास और जन कल्याण से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर जानकारी दी और मार्गदर्शन प्राप्त किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आग्रह किया कि आगामी प्रवासी भारतीय दिवस 9 जनवरी को मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में
आयोजित किया जाय प्रवासी भारतीय दिवस से संयोजित करते हुए इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन 4, 5 और 6
नवम्बर के स्थान पर 07 और 08 जनवरी को किये जाने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री ने श्री मोदी को उज्जैन के महाकाल वन कॉरीडोर के लोकार्पण का भी निमंत्रण दिया जिसे प्रधानमंत्री ने सहर्ष स्वीकार किया।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री श्री मोदी से मध्यप्रदेश स्टार्टअप नीति के मई महीने में वर्चुअल शुभारम्भ में जुड़ने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को प्रदेश में अमृत सरोवर योजना की प्रगति से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में प्रत्येक जिले में 75 सरोवर संरचनाओं का लगभग 3800 संरचनाओं का निर्माण लक्ष्य रखा गया है जिसे जन भागीदारी से पूरा किया जायेगा। 15 अगस्त को ध्वजारोहण भी इन्हीं संरचनाओं के निकट किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को प्रदेश के विश्व विख्यात शर्बती और दुरुम गेहूं के बारे में जानकारी देते हुए
बताया कि अबतक प्रदेश का 2.4 लाख टन गेहूं निर्यात हो चुका है 20 लाख मीट्रिक टन गेहूं के निर्यात की संभावना
और है। मिस्र के प्रतिनिधिमंडल ने मध्यप्रदेश के गेहूं के आयात की इच्छा व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने निर्यात नीति में
प्रदेश द्वारा निर्यातकों को दी जा रही सुविधाओं के बारे में भी जानकारी दी।

कृषि विविधीकरण नीति के बारे में अवगत कराते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को जानकारी दी कि प्रदेश में तिलहन और नगदी फसलों को बढ़ावा दिया जा रहा है जिससे खाद्य तेल के आयात में कमी कर विदेशी मुद्रा बचायी जा सके। श्री चौहान ने प्रदेश की इथेनॉल नीति की प्रगति पर चर्चा करते हुए बताया कि अबतक 50 करोड़ लीटर इथेनॉल उत्पादन के स्वीकृति पत्र जारी किये जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को रोजगार और स्वरोजगार की दिशा में प्रदेश की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में प्रतिमाह एक रोजगार दिवस आयोजित किया जा रहा है जिसमें 2 लाख स्वरोजगार उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है। अबतक 12 जनवरी, 25 फरवरी और 30 मार्च को तीन रोजगार दिवस आयोजित किये जा चुके हैं।

इनमें 13.6 लाख से अधिक युवकों को लगभग 7.7 हजार करोड रुपये का ऋण वितरण किया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में ग्रामों और नगरों के जन्मदिवस को गौरव दिवस के रूप में मनाने का अभियान चलाया गया है जिसमें अबतक 14 हजार ग्राम और 31 नगरीय निकायों के गौरव दिवस आयोजित किये जा चुके हैं। शेष ग्रामों और नगरीय निकायों के गौरव दिवस की तिथि का निर्धारण किया जा चुका है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को ई-व्हाउचर की जानकारी देते हुए बताया कि कृषि विभाग में उपकरण क्रय
और शिक्षा विभाग में साइकिल क्रय हेतु ई-व्हाउचर जारी किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को
प्रदेश में लागू अन्य केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं की प्रगति से अवगत कराया जिसमें प्रमुख रूप से स्वामित्व योजना,
प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, आयुष्मान भारत योजना, मातृवंदना योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, प्रधानमंत्री
आवास योजना की उपलब्धियां शामिल रहीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए
प्रधानमंत्री का मार्गदर्शन भी प्राप्त किया। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा उठाये गये सभी मुद्दों को ध्यानपूर्वक सुना और केन्द्र शासन द्वारा प्रदेश को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button