विज्ञापन
छत्तीसगढ़
Trending

Chhattisgarh: गांजा के साथ वाहन चोर गिरफ्तार

Chhattisgarh: रायगढ़। पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन एवं एडिशनल एसपी लखन पटेल के मार्गदर्शन पर कोतरारोड पुलिस द्वारा मोटरसाइकिल व कार चोरी में सक्रिय आरोपी को पकड़ा गया है जो रायगढ़ के साथ सीमावर्ती जांजगीर-चांपा में भी चोरियों को अंजाम दे रहा था । आरोपी की गिरफ्तारी के बाद गांजा तस्करी में सक्रिय तीन और आरोपी को पकड़ा गया, चारों मिलकर गांजा तस्करी के लिए भगवानपुर, कोतरारोड़ से कार की चोरी कर ओड़िशा गये थे । गिरफ्तार आरोपियों से 2 कार, 2 बाइक की बरामदगी कर आरोपियों को चोरी के अपराध में जेल भेजा जा रहा है

जानकारी के अनुसार दिनांक 16/05/2022 को भगवानपुर उपर बस्ती के हदयराम पटेल के किराये के मकान में रहने वाला उमाशंकर चौधरी (38 साल) थाना कोतरारोड में रिपोर्ट दर्ज कराया कि बड़े गुमडा घरघोड़ा का रहने वाला है, भगवानपुर में किराया मकान लेकर मेन रोड में किराने का दुकान खोला है । करीब 04 साल ईको मारूति गाडी क्रमांक CG 13 C- 7410 को सुनील पटेल निवासी भगवानपुर के पुरानी गाडी को खरीदा था, जिसे दिनांक 14/05/2022 के रात्रि 10/00 बजे किराना दुकान के सामने गाडी को लाक कर खडी किया था । दिनांक 15/05/2022 के सुबह 05/00 बजे सोकर उठा तो देखा गाड़ी वहां नही था । आसपास पता तलाश किया कोई पता नहीं चला । चोरी की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 379 IPC के तहत अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया है

थाना प्रभारी कोतरारोड एवं प्रशिक्षु आईपीएस प्रभात कुमार द्वारा कार चोरी के मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रार्थी एवं आसपास रहने वालों से पूछताछ कर घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा का फुटेज चेक करते हुए जांजगीर जिले के ग्राम करिगांव पहुंचे । जहां संदिग्धों के संबंध में जानकारी लेने पर इनके गांजा तस्करी में सक्रिय होने की जानकारी मिली, पुलिस को संदिग्धों की पतासाजी दौरान एक पेट्रोल पंप के पास के सीसीटीवी फुटेज में चार संदिग्ध एक साथ दिखे ।

पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन पर चारों को हिरासत में लिया गया जिनमें एक पूर्व में नकबजनी, बाइक चोरी, आर्म्स एक्ट में चालान हुआ आरोपी अजय निषाद उर्फ सोन निवासी चांदमारी थाना कोतवाली का होना पुख्ता हुआ जिसे हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ पर गांजा तस्करी के लिये अपने तीन साथियों के साथ कार और बाइक की चोरी करना बताया, आरोपी अजय सहित उसके तीन साथी शांतिलाल उर्फ जम्मू चन्द्रा, घासीराम चन्द्रा, भागवत चन्द्रा को गिरफ्तार किया गया है, चारों अपना गुनाह कबूल किये हैं

आरोपी अजय निषाद उर्फ सोनू निवासी चांदमारी प्रेम प्रताप कॉलोनी रायगढ़ थाना कोतवाली अपने मेमोरेंडम बयान में बताया कि करीब 3 साल से ग्राम करिगांव के शांति लाल उर्फ जम्मू लाल चंद्रा, भागवत उर्फ रितेश चंद्रा और घासी राम चंद्रा से जान पहचान है , तीनों गांजा तस्करी करते हैं । आरोपी अजय निषाद बताया कि करीब डेढ़ माह पहले चंद्रपुर अग्रेसेन लाज के पास रोड किनारे खड़ी एक इको मारुति कार बिना नंबर चोरी किया था जिसे सरिया में छुपा कर रखा था ।

करीब 10 दिन पहले दशरथ पान ठेला कोतरारोड के गली अंदर से एक एचएफ डीलक्स और एक पल्सर N.S.160 मोटरसाइकिल को अलग-अलग दिन चोरी कर अपने साथी जम्मू लाल चंद्रा के पास बिक्री कर दिया । इसी बीच जम्मू लाल चंद्रा, भागवत चंद्रा, घासी राम चंद्रा से मिला और चारों मिलकर गांजा तस्करी के लिए एक कार चोरी करने का प्लान बनाएं फिर प्लान के मुताबिक 14 मई की रात अजय निषाद किरोड़ीमल नगर आजाद चौक से रात्रि 2:00 बजे पैदल भगवानपुर आया और भगवानपुर रोड किनारे एक किराना दुकान के सामने खड़ी सफेद रंग की इको मारुति कार का दरवाजा खोल कर दूसरी चाबी से मारती काल को स्टार्ट कर चोरी कार को गोरखा खरसिय होते हुए जम्मू चंद्रा के गांव करिगांव पहुंचा जहां पहले से चारों अजय का इंतजार कर रहे थे ।

चारों गाड़ी में बैठ कर गांजा लेने उड़ीसा निकले । इस दौरान वे रास्ते के एक पेट्रोल पंप पर पेट्रोल भरवाए थे । ओड़िशा गांजा लेने जाने के दौरान शांति लाल उर्फ जम्मू चंद्रा मारुति ईको कार में लगे नंबर प्लेट को निकाल कर फेंक दिया गांजा नहीं मिलने पर चारों वापस आए ।अजय कार को चंद्रपुर में छिपा कर वापस रायगढ़ आ गया । आरोपी अजय निषाद उर्फ सोनू के मेमोरेंडम पर चन्द्रपुर से चोरी बिना नंबर मारुति ईको कार, भगवानपुर से चोरी मारुति ईको कार तथा दो मोटरसाइकिल पल्सर एनएस 160 एवं एचएफ डीलक्स को जप्त किया गया है ।

चंद्रपुर से चोरी गई इको कार तथा दशरथ पान ठेला के गली से चोरी दो बाइक के संबंध में थाना कोतरारोड में इस्तगासा क्रमांक 01, 02/2022 धारा 41(1+4)CrPC/379 IPC के तहत कार्यवाही किया गया है तथा भगवानपुर से चोरी इको कार के संबंध में दर्ज अप.क्र. 137/2022 धारा 379 IPC में चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है । आरोपी अजय निषाद को पूर्व में चार बार चालान किया गया है अन्य आरोपियों के आपराधिक रिकार्ड की जानकारी ली जा रही है ।

आरोपियों की पतासाजी, गिरफ्तारी तथा मशरूका की बरामदगी में श्री प्रभात कुमार (आईपीएस) के नेतृव में निरीक्षक चमन सिन्हा, एएसआई डी.पी.भारद्वाज, प्रधान आरक्षक प्रेम सिदार, आरक्षक अभिषेक द्विवेदी, महेश पंडा, संदीप कौशिक, चंद्रेश पांडे, राजेश खंडे, पुष्पेंद्र जाटवर (थाना कोतवाली) धनंजय कश्यप (साइबर सेल) की अहम भूमिका रही जिसमें चौकी प्रभारी खरसिया उपनिरीक्षक नंदकिशोर गौतम तथा थाना प्रभारी सरिया उपनिरीक्षक कमल किशोर पटेल का भी विशेष सहयोग रहा।

Show More

Related Articles

Back to top button