विज्ञापन
छत्तीसगढ़
Trending

Chhattisgarh News: पांच कुंडीय गायत्री महायज्ञ के साथ व्यक्तित्व निर्माण युवा शिविर का समापन

Chhattisgarh News: नगरी, अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वधान में जिला स्तरीय विकासखंड नगरी में छह दिवसीय व्यक्तित्व निर्माण युवा शिविर का समापन किया गया इसमें विभिन्न स्थानों से लगभग 140 शिविरार्थी भाई बहनों ने भाग लिया

प्रशिक्षण के प्रथम दिन शक्तिपीठ नगरी के प्रमुख ट्रस्टी आदरणीय श्री रमेश सार्वा जी एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती रामकुंवर सार्वा माँ ने दीप प्रज्वलन कर शिविर प्रारंभ की इसके बाद टोली का गठन व अनुशासन गोष्ठी आयोजित की गई प्रशिक्षक टोली के प्रमुख आदरणीय कुलदीप कृष्ण भारती एवं उनके सहयोगी प्रशिक्षक मुकेश कुमार साहू ,बलराम साहू ,दिलीप निर्मलकर, हेमराज निर्मलकर ,श्रद्धा साहू एवं लक्ष्मी सेन उपस्थित थे।

मुख्य अतिथि एसडीएम चंद्रकांत कौशिक जी ने अपने उद्बोधन में कहा कि बच्चे 6 दिन के शिविर में एक अच्छे नागरिक बनने का कौशल प्राप्त करेंगे एवं ऐसे कार्यक्रम की आवश्यकता पर उन्होंने प्रकाश डाला ।दोपहर शिविरार्थी भाई बहनों को जीवन लक्ष्य एवं कैरियर निर्माण, व्यक्तित्व निर्माण के सूत्र ,सफल जीवन के सूत्र की जानकारी दी गई दूसरे दिन भोर काल में योग ,प्राणायाम ध्यान ,साधना एवं स्वास्थ्य जीवन के सूत्र ,स्वाध्याय जीवन के अनिवार्य आवश्यकता प्रेरक उद्बोधन दिया गया,तीसरे दिन व्यक्तित्व निर्माण,

सफलता के सूत्र स्वस्थ रहने के सरल उपाय,स्वाध्याय जीवन की अनिवार्य आवश्यकता एवं सायंकाल मांसाहार के वीडियो फिल्म को देखकर स्वयं से प्रेरित होकर मांसाहार को 16 भाई बहन मासत्याग के लिए संकल्पित हुए ,व्यसन से बचाए सृजन में लगाए और समस्याएं एवं समाधान युवाओं की चुनौती व व्यसन मुक्ति रैली निकाली गई एवं दो भाइयों के द्वारा नशा ना करने का संकल्प लिया गया चौथे दिन संस्कारों का विज्ञान गायत्री महाविज्ञान एवं पंचम दिवस में प्रातः काल ध्यान साधना जब एवं विभिन्न प्रकार के खेल का कौशल सिखाया गया।

प्रातः 10:00 बजे पांच कुंडीय गायत्री महायज्ञ व दीक्षा संस्कार किया गया उपरांत भोजन प्रसादी वितरण एवं मुख्य अतिथि के रूप में ब्रह्माकुमारी माधुरी दीदी ने ऐसे कार्यक्रमों की आवश्यकता पर प्रकाश डाला सिहावा विधानसभा क्षेत्र के विधायक आदरणीया श्रीमती डॉक्टर लक्ष्मी ध्रुव कहा कि आज की युवा दिग्भ्रमित हो गए हैं उन्हें अच्छे संस्कार हेतु ऐसे कार्यक्रम आवश्यक रूप से की जानी चाहिए एवं अंगद लाल बनपेला जी ने कहां की आज के युवा राष्ट्र के भविष्य है और युवाओं के महत्व पर उन्होंने प्रकाश डाला।

इसमें16 मांसाहार वह नशा के त्याग के लिए संकल्प , 17 दीक्षा संस्कार एवं 8 बाल संस्कार साला खोलने के लिए संकल्प लिया साथ ही 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वृक्षारोपण भी किया गया इसके बाद भोजन प्रसादी व प्रशिक्षक टोली की विदाई की गई समापन समारोह में गायत्री शक्तिपीठ की मुखिया श्री रमेश कुमार सार्वा, यज्ञ आयोजन प्रमुख भानुतेजस,ब्लॉक संयोजक रामकुमार सामरथ , रति राम ध्रुव, उदयलाल भास्कर, बलराम कंचन,

नंद लाल यादव शिवसरोज, वशिष्ठ मरकाम, अशोक मरकाम, हरख साहू रवि सोन,मिश्री साहू ,भुवनेश्वर, रमेश साहू , शेखर,पोषण पटेल ,अमर मानिकपुरी, तीरथ साहू, शांति नेताम, गायत्री बोदेले शशिकला बैरागी, गायत्री साहू, दिव्या सार्वा, रिकेश्वरी साहू साधना अग्रवाल, रजनी साहू,श्री लिलंबरसाहू रूपचंद सोन सुमंत ध्रुव भूपेंद्र साहू श्रीमती सुषमा तारम लोकेश्वरी सोन चंद्रकला साहू वेणुसाहु माहेश्वरी नाग जानकी सोन राधा चनाप ,सुशीला कश्यप आदि का योगदान रहा।

Show More

Related Articles

Back to top button