विज्ञापन
छत्तीसगढ़
Trending

Chhattisgarh: आखिरकार सूदखोरी की भेंट चढ़ गया परिवार का मुखिया,धमकी से डरकर तेजाब पीकर दे दी जान

Chhattisgarh: Dm Soni: भखारा/धमतरी – धमतरी जिले के भखारा नगर पंचायत वार्ड क्रमांक 5 निवासी रावलमल सोनी ने विगत कुछ दिन पहले एसिड पीकर आत्महत्या कर ली थी इस मामले की मर्ग डायरी भखारा थाना पहुंच चुकी है।

सूदखोरों की मोबाइल रिकॉर्डिंग वाट्सएप्प चेटिंग सुरक्षित पुलिस नही दे रही ध्यान :-पीड़ित परिवार

उल्लेखनीय है कि भखारा नगर में संचालित दुर्गा ज्वैलर्स के संचालक रावलमल सोनी ने 12 मई को एसिड पीकर आत्महत्या करने कोशिश की थी। जिनका इलाज के दौरान 25 मई को निधन हो गया। इस मामले में मृतक की पत्नी कविता सोनी ने धमतरी दुर्ग एवं रायपुर के व्यापारियों पर गंभीर आरोप लगाते हुए प्रशासन से कार्यवाही कर न्याय दिलाने की मांग की हैं।

बुधवार को रावलमल सोनी के पुत्र चाडूमल सोनी ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर सुसाइड नोट की छायाप्रति दी, जिसमे प्रताड़ित करने वाले व्यापारी का नाम लिखा हुआ है। उसके साथ ही मृतक की पत्नी कविता सोनी ने मीडिया के समक्ष आकर बताया कि उसके पति रावलमल सोनी धमतरी, दुर्ग एवं रायपुर के व्यापारियों से उधार में सोना चांदी की खरीदारी करते थे।

जिसमें उल्लेखित व्यापारी ब्याज पर ब्याज लगाकर मेरे पति से मूलधन से कई गुना राशि वसूल लिए हैं फिर भी उन्हें पैसे के लिए प्रताड़ित करते थे। एक बार वही व्यापारी मेरे घर आकर 110 तोला सोना भी ले गए,यहां तक कि उन व्यापारियों ने पैसों की लालच में मेरे पति को जान से मारने की धमकी देते हुए दबाव बनाकर जबरदस्ती हमारी संपत्ति के बिक्रीनामा जैसे दस्तावेजों में हस्ताक्षर करवा लिया। इस भयावह स्थिति से डर कर मेरे पति को आत्महत्या का कदम उठाना पड़ा। मेरे पति ने मूल चांदी व सोने की रकम से कई ज्यादा देनदारों को दे दिया जिसके बाद भी उन्होंने वास्तविक रकम लेकर कलम बंद नही की बजाय इसके व्यापारी मेरे पति को हमेशा जान से मारने की धमकी देते थे जिसकी रिकॉर्डिंग तक मोबाइल में सुरक्षित है।

आगे मृतक की पत्नी ने बताया कि मुझे भय है कि ऐसे लोग मुझे और मेरे बच्चों को भी मरवा सकते हैं हमे सुरक्षा चाहिए।

उन्होंने बताया कि इसकी शिकायत मैंने मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन, पुलिस अधीक्षक धमतरी, पुलिस महानिदेशक रायपुर से की है।

मृतक ने सुसाइड से पहले मुख्यमंत्री से की थी न्याय की मांग…. आखिर क्या लिखा था सुसाइड नोट में:

ज्ञात हो कि सुसाइड नोट में रावलमल सोनी ने व्यापारियों का नाम लिखकर कहा है कि “यह लोग जान से मारने की धमकी देते थे, इन लोगों को छोड़ना मत” सुसाइड नोट में रावलमल सोनी ने व्यापारियों का नाम लिखकर बताया था कि मेरी आत्महत्या करने की वजह उक्त व्यापारी लोग हैं मेरे मोबाइल में भी रिकॉर्डिंग है इन को छोड़ना मत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व सरकार से मेरी रिक्वेस्ट है।

सन्देह के घेरे में भखारा पुलिस की कार्यवाही

एसिड पीकर आत्महत्या की कोशिश एवं इलाज के दौरान मौत से लेकर अब तक लगभग एक महीना से ज्यादा हो चुका है लेकिन पुलिस ने मामले को लेकर अब तक एफआईआर दर्ज नही कर रही है। देरी को लेकर साफ प्रतीत होता है कि रसूखदारों के आगे पुलिस भी नतमस्तक है और कहीं न कहीं मामले को ढीला करने को लेकर ऊपरी दबाव जारी है।

कुछ रसूखदारों के है राजनीतिक सम्बन्ध।

थाना प्रभारी शंकर नवरत्न:

मामले में मार्ग कायम किए जाने के बाद मर्ग डायरी भखारा थाना पहुंची है और अब विवेचना जारी है पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं आई है तो जांच के बाद ही कुछ स्पष्ट हो पाएगा।

विज्ञापन
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button