छत्तीसगढ़

सीईओ ने किया गौठान व चारागाह का निरीक्षणमल्टीविटी एक्टीविटी के रूप में विकसित करने के निर्देश

कांकेर – जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ.संजय कन्नौजे द्वारा ग्राम पंचायत भीरावाही एवं पोटगाव के गौठान का औचक निरीक्षण किया गया। उन्होंने गौठानो में चल रहे गतिविधियों का आकलन कर उससे होने वाले आय के संबंध में महिला स्व सहायता समुहो से चर्चा कर आर्थिक लाभ कमाने के लिए प्रोत्साहित किया गया। भीरावाही के गौठान में कार्यरत महिला समूह नव चेतना एवं नव जागृति द्वारा वर्मी खाद, मछली पालन, सब्जी उत्पादन एवं मशरूम उत्पादन के कार्य किये जा रहे है, उन्हें अधिक मात्रा में उत्पादन करने और प्रति महिला छः हजार रूपये आय प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए सीईओ डॉ.संजय कन्नौजे द्वारा समूह की मांग पर मशरूम उत्पादन हेतु महिला समूह के लिए वर्कशेड का प्रस्ताव भेजने हेतु जनपद पंचायत के सीईओ को निर्देशित किया। उन्होंने ग्राम पंचायत भीरावाही के सरपंच श्रीमति संगीता कोमरा तथा गौठान समिति के अध्यक्ष महेन्द्र यादव से चर्चा कर गौठान में प्रतिदिन पशुओ को लाने के निर्देश दिये। उनके द्वारा गौठान में नेपियर घास में खाद डालकर अधिक मात्रा में उत्पादन करने तथा मल्टीएक्टीविटी को बढावा देने के लिए निर्देशित किया गया। ग्राम पंचायत में संचालित विभिन्न शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन तथा ग्रामीण सचिवालय में प्राप्त आवेदनो का निराकरण के निर्देश दिये।
             

सीईओ डॉ.कन्नौजे ने निरीक्षण करते हुए ग्राम पंचायत पोटगाव के गौठान में वर्मी खाद का उत्पादन कर रहे महिला स्व-सहायता समूह जय ठाकुरदाई के सदस्यों से बातचित भी किया। समूह के अध्यक्ष श्रीमति गायत्री कोमरे ने सब्जी उत्पादन, वर्मी उत्पादन एवं मशरूम उत्पादन से 90 हजार रूपये की आमदानी होने की जानकारी दी गई जिस पर सीईओ डॉ.कन्नौजे ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए महिला समूह को अधिक आमदनी करने हेतु तत्काल मशरूम उत्पादन के लिए 05 लाख का वर्किंग शेड स्वीकृत किये। उन्होंने समीप के तालाब में मछली पालन, 01 एकड़ के खाली भूमि पर केला पौधारोपण, छेनहा के वृक्ष पर कोसा उत्पादन कर आर्थिक गतिविधियों को महिला समूह से जोड़कर आय को 90 हजार से बढ़ाकर 09 लाख तक पहुचाने के लिए सुझाव एवं निर्देश जनपद सीईओ डॉ. कल्पना ध्रुव को दिये। जिला प्रशासन के प्रयास से महिलाओ के आय में वृद्धि, आत्मनिर्भरता में बढ़ोतरी, सामाजिक प्रतिष्ठा का विकास और महिलाओं को समाज की मुख्य धारा से जुडने और समाज में अपना पहचान बनाने के लिए कहा। उनके द्वारा पोटगाव में बन रहे कचरा प्रबंधन शेड एवं धान चबुतरा निर्माण कार्य का भी निरीक्षण तथा कार्य में उपस्थित मजदूरो का मस्टरोल के आधार पर मिलान किया गया। सीईओ डॉ कन्नौजे द्वारा कार्य को गुणवत्ता पूर्ण बनाने के निर्देश दिये गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button