Advertisement
राजनीति

BJP नेता गजेंद्र झा पार्टी से निष्कासित, मांझी की जीभ काटने पर 11 लाख देने का किया था ऐलान

Advertisement

पटना: पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) की टिप्पणी पर बयान देने वाले भाजपा नेता मुश्किल में पड़ गए हैं. मांझी के सत्यनारायण भगवान (Satyanarayan Bhagwan) पर टिप्पणी के बाद BJP नेता गजेंद्र झा ने उनकी जुबान काटने पर ईनाम का ऐलान किया था. मांझी की जुबान काटने वाले को 11 लाख देने संबंधी बयान पर गजेंद्र झा पार्टी से निकाल दिए गए हैं और उन्हें 15 दिनों के भीतर स्पष्टीकरण देने को भी कहा गया है

जानकारी के मुताबिक, मधुबनी भाजपा जिलाध्यक्ष शंकर झा ने गजेंद्र झा के बयान को अमर्यादित और पार्टी अनुशासन के खिलाफ बताया है. उन्होंने उनपर हुई कार्रवाई को भी उचित ठहराया है. हालांकि गजेंद्र झा अब भी अपने बयान पर अडिग हैं. उन्होंने कहा- ‘मैं भाजपा नेता से पहले ब्राह्मण हूं.

जीतन राम मांझी ने जो कहा है, उसके लिए पहले वो माफी मांगे. मुझे कार्रवाई का कोई डर नहीं’ गजेंद्र झा यहीं नहीं रुके, उन्होंने यह भी कहा कि जीतन राम मांझी को अगर राम में विश्वास नहीं तो सबसे पहले जीतन के बाद ‘राम’ लगाने वाले को खोजें. उन्होंने उन पर चर्चा में बने रहने की मंशा का आरोप लगाते हुए कहा कि, इस तरीके से सिर्फ फुटेज पाने के लिए उन्होंने ऐसा बयान दिया है

गजेंद्र झा भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य हैं. उन्होंने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उक्त बातें कही थीं. उनके इस बयान के बाद पार्टी ने कार्रवाई करते हुए बाहर का रास्ता दिखाया है. सोमवार को पत्रकारों से बात करते हुए बीजेपी नेता गजेंद्र झा ने कहा था कि पंडितों के खिलाफ बोलने वाले जीतन राम मांझी की जीभ काटने वाले को 11 लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा. साथ ही जिंदगी भर उसका भरण पोषण किया जाएगा. हालांकि, उनके इस बयान पर हम में कड़ी आपत्ति जताई है

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button