Advertisement
छत्तीसगढ़प्रदेश
Trending

भाजपा पार्षद दल के प्रवक्ता Mrityunjay Dubey ने केवल फॉगिंग में 55 लाख रुपए के डीजल पर ख़र्च को कांग्रेस के महापौर परिषद का बताया भ्र्ष्टाचार

भाजपा पार्षद दल के प्रवक्ता मृत्युंजय दुबे (Mrityunjay Dubey) ने केवल फॉगिंग में 55 लाख रुपए का डीजल पर ख़र्च को कांग्रेस के महापौर परिषद का भ्र्ष्टाचार बताया है । वर्कशॉप से डीजल जोन कार्यालय और वार्डो तक पहुंच कर फॉगिंग करने के समय 10 ने से केवल 5 लीटर रह जाता है ।

यही कारण है कि भ्र्ष्टाचार पर नियंत्रण नही कर पाने वाले निगम प्रशासन फॉगिंग को ही कम या बन्द करना चाह रही है , यदि फॉगिंग से मच्छरों पर असर नही होता तो अब तक फॉगिंग क्यों किया जा रहा था । अब जब भ्र्ष्टाचार पकड़ा जा रहा है तो फॉगिंग को कम करने की बात हो रही है । आखिर हर जोन से प्रति दिन 5 लीटर डीजल के बन्दरबाँट में कौन शामिल रहा ???

मच्छर को कैसे नियंत्रित करेंगे , जनता की परेशानी कैसे दूर होगी अधिकारियों का तर्क है कि अब एंटीलारवा छिड़काव को बढ़ाया जाएगा , नालियों में प्रतिदिन छिड़काव किये जाएँगे । भाजपा पार्षद मृत्युंजय दुबे ने निगम के महापौर से प्रश्न किया है कि डीजल वार्ड में पहुँचते पहुँचते 10 से 5 लीटर हो जाता था , अब एंटीलारवा के छिड़काव की दवाई की जगह पानी भी छिड़का जा सकता है ।

इसकी जाँच कौन करेगा कि कितने लीटर में कितनी दवाई एंटीलारवा की डाली जा रही है , उसकी मात्रा सही है की नही यह कौन प्रमाणित करेगा । आवश्यकता है संसाधन का ईमानदारी से सही उपयोग और इसके लिए भ्र्ष्टाचार करने वालो पर नकेल कसना जरूरी है । जिनको भ्र्ष्टाचार पर नकेल कसना है यदि वही भ्र्ष्टाचार में शामिल हो जाये तो क्या होगा ??
सामान्य सभा में भाजपा पार्षद दल ने मच्छरों से त्रस्त जनता , फॉगिंग में हो रहे भ्र्ष्टाचार और डीजल चोरी के सम्बंध में महापौर परिषद को कटघरे में खड़ा किया था

Advertisement
Show More

Related Articles

Back to top button