Advertisement
छत्तीसगढ़प्रदेश

कांकेर जिले में चार नवीन धान खरीदी केन्द्रों की स्वीकृति

Advertisement

कांकेर – छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कांकेर जिले में चार नये धान खरीदी केन्द्रों की स्वीकृति प्रदान की गई है। कोयलीबेड़ा विकासखण्ड अंतर्गत मदले, अंतागढ़ विकासखण्ड अंतर्गत उसेली, नरहरपुर विकासखण्ड के डूमरपानी तथा हटकाचारामा में नवीन धान खरीदी केन्द्र की स्वीकृति दी गई है।जिससे आमाबेड़ा के कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने आमाबेड़ा अटल चौक के पास अंतागढ़ विधायक, कांकेर कलेक्टर चन्दन सिंह को बधाई देते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने फटाके फोड़े,

आमाबेड़ा क्षेत्र में क्षेत्रवासियों के द्वारा पिछले 15 वर्षों से अतरिक्त नवीन धान खरीदी केंद्र की मांग की जा रही थी , इस क्षेत्र में पूरे 90 गांव आते है पूरे 90 गांव के किसान एक ही धान खरीदी केंद्र आमाबेड़ा में विक्रय करते थे बड़ी संख्या में भीड़ होती है , किसानों को धान बेंचने के लिए कई दिनों तक टोकन का इंतजार करना पड़ता था वहीं टोकन प्राप्ति के बाद भी धान बेंचनें के लिए कई दिनों तक लाईन में लगना पड़ता था कई किसान लाइन में लगाने के लिए खरीदी केंद्र में ही रात दिन रुकते थे बड़ी समस्या होती थी । कई किसान अपना धान बेंच नहीं पाते थे समय निकल जाता था, 15, वर्षों से मांग किया जा रहा। लेकिन किसानों का मांग पूरा नहीं हुआ ।

\किसानों ने जिला सहकारी बैंक एवं धान खरीदी केंद्र की मांग वर्तमान विधायक माननीय अनूप नाग जी से किए नाग जी इस मांग को लगातार प्रयास करते रहे ,आखिरकार बैंक एवं अतरिक्त नवीन धान खरीदी केंद्र की स्वकृति मिल ही गई , माननीय विधायक जी ने आमाबेड़ा के किसानों को धन्यवाद किया और कहा आप सभी के आशीर्वाद से ही मै बैंक एवं अतरिक्त नवीन धान खरीदी केंद्र स्वीकृत करने में सफल हुआ इस लिए सबसे पहले किसान भाइयों का आभार व्यक्त करता हूं। अतरिक्त नवीन धान खरीदी केंद्र स्वकृति मिलने के खुशी में आमाबेड़ा के लोगो एवं कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने नारे बाजी लगते हुए हर्ष उत्साह मनाया जिसमें ब्लाक कांग्रेस कमेटी सचिव विक्रम भंडारी जी, सरपंच लोकेश बघेल जी, नरोत्तम बघेल, गजेंद्र सेन , आवेद मेमन, बाबूलाल पटेल, अनिल दास, प्रेम दस,दीपक, दिलीप समरथ, हरी नेगी, स्वरूप हालदार जी, लक्की मेमन ,एवं कई कार्यकर्ताओं ने उत्साह मनाया।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button