छत्तीसगढ़प्रदेश
Trending

Dantewada के किरंदुल में लौह अयस्क से भरे मालगाड़ी पटरी के 17 डिब्वे पटरी से उतरे

रायपुर: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा (Dantewada) जिले में मालगाड़ी के 17 डिब्बे पटरी से उतर (Indian Railways Goods Train Derailed) गए हैं, हालांकि घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. दंतेवाड़ा जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि शुक्रवार (17 दिसंबर) को तड़के करीब चार बजकर पांच मिनट पर कामालूर और भांसी रेलवे स्टेशनों के मध्य मालगाड़ी के 17 डिब्बे पटरी से उतर गए.

ट्रेनों की आवाजाही बाधित

पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि लोहे से लदी मालगाड़ी किरंदुल (दंतेवाड़ा) से विशाखापत्तनम की ओर जा रही थी. तड़के जब वह कामालूर और भांसी रेलवे स्टेशन के मध्य पहुंची तब उसके 17 डिब्बे पटरी से उतर गए. उन्होंने बताया कि इस दुर्घटना के कारण जगदलपुर और किरंदुल के बीच ट्रेनों की आवाजाही बाधित हुई है.

नक्सल प्रभावित इलाका है दंतेवाड़ा

बता दें कि छत्तीसगढ़ का दंतेवाड़ा (Dantewada) एक नक्सल प्रभावित इलाका है और नक्सली कई बार ट्रेन की पटरियों को नुकसान पहुंचा देते हैं. हालांकि पुलिस अधीक्षक ने घटना के पीछे माओवादियों की भूमिका से इनकार किया है.

नक्सलियों की भूमिका से इनकार

पुलिस अधीक्षक ने कहा कहा कि अभी तक की जांच में जानकारी मिली है कि घटना तकनीकी कारणों से हुई है. उन्होंने बताया कि घटनास्थल से नक्सलियों का कोई भी बैनर, पोस्टर बरामद नहीं हुआ है, वहीं क्षेत्र में नक्सली गतिविधि की भी सूचना नहीं है.

जांच के बाद सामने आएगी दुर्घटना की वजह

पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस और रेल विभाग के कर्मचारी, अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए है. रेलवे लाइन पर रेलगाड़ियों की आवाजाही फिर से शुरू करने के लिए कार्य प्रारंभ कर दिया गया है. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि रेल विभाग के अधिकारी दुर्घटना के कारणों की जांच कर रहे हैं. जांच के बाद ही इस संबंध में सही जानकारी मिल सकेगी

Show More

Support Us!

‘प्रबुद्ध जनता समाचार’ जनवादी पत्रकारिता करता है, यह संविधान, लोकतंत्र और सामाजिक न्याय पर चलने वाला एक डिजिटल मीडिया है जो आपके लिए लेकर आता है तत्काल की लेटेस्ट खबरे, विचार, कहानियाँ और इसे हम तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग और लेखन के लिए हमारा सहयोग करें।

Related Articles

Back to top button