विज्ञापन
प्रदेश
Trending

Yasin Malik के घर के बाहर देशविरोधी नारे लगाने के मामले में 10 लोग गिरफ्तार

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता और आतंकवादी रहे यासीन मलिक (Yasin Malik) को सजा का ऐलान होने के बाद कुछ युवाओं ने श्रीनगर में पत्थरबाजी की थी। इनमें से 10 लोगों को पुलिस ने अब तक गिरफ्तार कर लिया है। यही नहीं कल तक पत्थर फेंक रहे ये लोग अब थाने में कान पकड़कर अपनी हरकतों के लिए माफी मांगते नजर आ रहे हैं। श्रीनगर पुलिस ने बताया कि देश विरोधी नारेबाजी और यासीन मलिक के घर के बाहर पत्थराबाजी करने के आरोप में अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कहा कि मलिक को दिल्ली में सजा सुनाए जाने के बाद उसके इलाके माइसुमा में हिंसक प्रदर्शन हुआ था। हालांकि अन्य इलाकों में हालात शांतिपूर्ण बने रहे

पुलिस ने कहा कि अभी कुछ लोगों को गिरफ्तार किया जा सकता है। श्रीनगर पुलिस ने कहा, ‘अन्य आरोपियों की भी पहचान की जा रही है और जल्दी ही उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। आईपीसी की धाराओं और यूएपीए के तहत केस दर्ज कर लिया है। इसके अलावा इस हिंसा को भड़काने वाले प्रमुख आरोपियों के खिलाफ जन सुरक्षा कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा।’ बता दें कि यासीन मलिक को सजा के ऐलान के तुरंत बाद श्रीनगर में स्थित उनके घर के बाहर पत्थरबाजी हुई थी। लेकिन पुलिस ने तत्काल कार्रवाई की थी और उपद्रवी तत्वों को खदेड़ दिया था।

यही नहीं यासीन मलिक की पत्नी ने भी सजा पर सवाल उठाते हुए अपने पति को बहादुर शख्स करार दिया था और पीएम नरेंद्र मोदी की तुलना हिटलर से की थी। गौरतलब है कि हिंसा भड़कने के बाद प्रशासन ने कुछ इलाकों में बुधवार शाम को इंटरनेट बंद कर दिया था और सख्ती बढ़ा दी थी। यासीन मलिक की सजा पर पाकिस्तान भी बौखलाया हुआ है। पाक के पीएम शहबाज शरीफ ने यासीन की सजा को लोकतंत्र के लिए काला दिन बताया था। इसके अलावा क्रिकेटर शाहीद आफरीदी समेत पाकिस्तान की कई और हस्तियों ने आतंकी यासीन मलिक की सजा पर रोना रोया है। यही नहीं शाहिद आफरीदी ने तो इस मुद्दे को यूएन में भी ले जाने की अपील की थी

विज्ञापन
Show More

Support Us!

‘प्रबुद्ध जनता’ जनवादी पत्रकारिता करता है। यह संविधान, लोकतंत्र और सामाजिक न्याय पर चलने वाला एक डिजिटल मीडिया है। अगर आप भी चाहते हैं कि ‘प्रबुद्ध जनता समाचार’ हमेशा हाशिए पर खड़े लोगों की आवाज़ बुलंद करता रहे और तुरंत की सभी लेटेस्ट खबरे आप तक पहुंचाता रहे तो इसे हम तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करेंगें इसलिए हमारी आपसे यह अपील है कि आप स्वेच्छा से प्रबुद्ध जनता समाचार का सहयोग करें। जिससे हमारी समाचार कवरेज़ खासकर फील्ड रिपोर्टिंग को मदद मिल सके।

Related Articles

Back to top button