छत्तीसगढ़प्रदेश

कोविड 19 से मृत व्यक्तियों के परिजनों/आश्रितों को अनुदान राशि ₹50 हजार अपर्याप्त, असंतोष और असम्मानजनक – JCCJ

रायपुर, छत्तीसगढ़, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) (JCCJ) के मुख्य प्रवक्ता अधिवक्ता भगवानू नायक ने देश के सबसे बड़े न्याय का मंदिर सुप्रीम कोर्ट के द्वारा कोविड 19 से मृत व्यक्तियों के आश्रित परिजनों को न्याय दिलाने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा सुप्रीम कोर्ट के फटकार के बाद केंद्र सरकार के द्वारा देशभर में वैश्विक महामारी कोरोनावायरस से मृत व्यक्तियों के प्रत्येक परिजनों/आश्रितों को ₹50,000 रुपए देने का निर्णय लिया जाकर National Disaster Management Authority , Govt Of India के द्वारा दिशा निर्देश जारी किया गया है।

जिसका परिपालन करते हुए छत्तीसगढ़ शासन में द्वारा भी आश्रितों को उक्त राशि प्रदान करने के लिए आज एक दिशा निर्देश जारी किया है। भगवानू नायक ने कहा केंद्र सरकार के द्वारा आश्रित परिवार को दिया जाने वाला अनुदान राशि ₹ 50 हजार “ऊंट के मुंह में जीरा के बराबर” जो कि अपर्याप्त, असन्तोषजनक और असम्मानजनक है है। उन्होंने कहा कोरोना महामारी में हजारों लाखों लोगों ने अपनों को खोया है, किसी ने अपने पिता को तो किसी ने अपने पति को खोया है, किसी ने अपनी मां, बहन और बेटा को भी खोया है, कइयों ने घर मे एक मात्र कमाने वाले व्यक्ति को खोया है क्या ऐसे जरूरतमंद परिवार को सरकार से एक सम्मानजनक राहत नहीं मिलना चाहिए ? एक तरफ भाजपा के नेताओ के द्वारा सबका साथ सबका विकास,

मोदी है तो मुमकिन है कहकर मोदी सरकार की गुणगान करते थकते नहीं है और अपनी पीठ थपथपाते रहते है और जब केंद्र सरकार के कोविड से मृत व्यक्तियों के प्रत्येक आश्रित परिवार को ₹ 50 हजार अनुदान राशि दिए जाने का निर्णय पर उन्हें क्यों सांप सूंघ गया है ? छत्तीसगढ़ के भाजपा सांसदों को इस संबंध में केंद्र सरकार से मांग कर प्रत्येक आश्रित परिजनों को पर्याप्त, संतोषजनक और सम्मानजनक अनुदान राशि दिए जाने की मांग की जानी चाहिए । नायक ने इस संबंध में राज्य सरकार से भी आश्रित परिजनों को पृथक से सहायता अनुदान राशि दिए जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button