Advertisement
छत्तीसगढ़प्रदेश

COVID-19 टीकाकरण हेतु शनिवार को चलाया जाएगा विशेष अभियान

Advertisement

कांकेर – (COVID-19) कोरोना से बचाव के लिए जिले में दु्रत गति से कोविड-19 का टीकाकरण किया जा रहा है, आगामी शनिवार को इसके लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा, जिसमें सभी विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों की भी भागीदारी होगी। उल्लेखनीय है कि जिले में अब तक 04 लाख 90 हजार व्यक्तियों को प्रथम डोज का टीका एवं 02 लाख 12 हजार व्यक्तियों को द्वितीय डोज का टीका लगाया जा चुका है। चारामा विकासखण्ड में शत-प्रतिशत लोगों के द्वारा प्रथम डोज का टीका लगवाया जा चुका है। शनिवार को संचालित होने वाले इस विशेष अभियान में जिन्होंने अभी तक टीका नहीं लगवाया है, उन्हें प्रथम डोज का टीका लगाया जाएगा तथा जिन व्यक्तियों ने प्रथम डोज का टीका लगवा लिया एवं  द्वितीय डोज का समयावधि पूरा हो गया है उन्हें दूसरा डोज का टीका लगाया जाएगा। कलेक्टर श्री चन्दन कुमार ने टीकाकरण के लिए सभी तैयारी सुनिश्चित करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं जनपद सीईओ को दिये हैं।
मंगलवार को आयोजित समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के तैयारियों की भी समीक्षा की गई। बारदाना की उपलब्धता एवं किसानों को टोकन जारी करने के संबंध में विशेष रूप से निर्देशित किया गया तथा सभी नोडल अधिकारियों को धान खरीदी केन्द्रों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करने के निर्देश दिये गये। सभी एसडीएम एवं तहसीलदारों को प्रत्येक दिन दो से तीन धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण करने को कहा गया। उनके द्वारा जल जीवन मिशन अंतर्गत स्वीकृत कार्यों में प्रगति तथा स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में रनिंग वाटर की व्यवस्था की समीक्षा किया गया एवं अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। कोरोना से मृत व्यक्तियों के परिजनों को आर्थिक सहायता की समीक्षा भी उनके द्वारा की गई।

सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारी-कर्मचारियों का छह माह पूर्व से ही पेंशन प्रकरण तैयार करना शुरू करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया। कोयलीबेड़ा विकासखण्ड मुख्यालय के सभी कार्यालयों को आवश्यक संसाधन जैसे- स्टेशनरी एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये गये। कलेक्टर श्री चन्दन कुमार द्वारा प्रत्येक सोमवार को आयोजित होने वाले जन चौपाल एवं ग्रामीण सचिवालयों में प्राप्त आवेदनों का निराकरण सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया, साथ ही अधिकारियों को स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण करने के निर्देश दिये गये। आश्रम-छात्रावासों में रात्रि 7.30 बजे से 08 बजे के मध्य भोजन परोसने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया गया। उनके द्वारा मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजनांतर्गत बाजारों में मरीजों का उपचार तथा प्राथमिक विद्यालय में अध्ययनरत एसटी, एससी, ओबीसी वर्ग के छात्र-छात्राओं को जाति प्रमाण पत्र जारी करने के संबंध में भी समीक्षा की गई तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। बैठक में वन मण्डलाधिकारी पश्चिम भानुप्रतापपुर पूर्व वनमण्डल आर.सी. मेश्राम, अपर कलेक्टर एस.पी. वैद्य, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी सुमित अग्रवाल, विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी, सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं नगरीय निकायों के अधिकारी मौजूद थे।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button